जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोग पारदर्शी लोकतांत्रिक एवं विकास प्रक्रिया में बराबर के भागीदार बने हैं: मंत्री नकवी – Daily Kiran
Saturday , 4 December 2021

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोग पारदर्शी लोकतांत्रिक एवं विकास प्रक्रिया में बराबर के भागीदार बने हैं: मंत्री नकवी


नई दिल्ली (New Delhi) . केन्द्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि गलत ताकतों को आतंकवाद और हिंसा के जरिए जम्मू-कश्मीर में शांति और समृद्धि के माहौल को खराब करने के उनके नापाक मंसूबों में कामयाब नहीं होने दिया जाएगा. जम्मू-कश्मीर के बडगाम में आज विभिन्न विकास परियोजनाओं के शिलान्यास/उद्घाटन के दौरान विभिन्न कार्यक्रमों को संबोधित करते हुए नकवी ने कहा कि निर्दोष लोगों कीहत्या (Murder) के जिम्मेदार अपराधियों का सफाया किया जाएगा. नकवी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) (Prime Minister Narendra Modi) ने “परिक्रमा की राजनीति”की जगह “उत्कृष्ट प्रदर्शन” को प्रश्रय दिया है. इससे आतंकवाद और अलगाववाद की बीमारी को मिटाकर जम्मू-कश्मीर औरलद्दाख का समृद्धि की राह पर आगे बढ़ना सुनिश्चित हुआ है.

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार ने दिल्ली के सत्ता गलियारों से “भ्रष्टाचार के कॉकस” को समाप्त कर दिया है और अब जम्मू-कश्मीर को भी “घरानों के भ्रष्टाचार” से मुक्त कर दिया है. जम्मू-कश्मीर और लद्दाख ‘वंशवाद के जाल’ को ध्वस्त करते हुए समावेशी विकास की राह पर आगे बढ़ रहे हैं. कई दशकों के बाद, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोग एक पारदर्शी लोकतांत्रिक और विकास प्रक्रिया में बराबर के भागीदार बने हैं. उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 के खात्मे के बाद जम्मू-कश्मीर और लेह-कारगिल के लोगों के व्यापार, कृषि, रोजगार, संस्कृति, भूमि और संपत्ति आदि संबंधी अधिकारों को पूर्ण संवैधानिक संरक्षण और सुरक्षा प्रदान की गई है. नकवी ने कहा कि जोजिला सुरंग जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के बीच हर मौसम में आवागमन की सुविधा मुहैया कराएगी. लद्दाख में लगभग 750 करोड़ रुपये की लागत से सिंधु केंद्रीय विश्वविद्यालय स्थापित किया जा रहा है. यह विश्वविद्यालय इस क्षेत्र में गुणवत्तापूर्ण उच्च शिक्षा और बौद्धिक विकास सुनिश्चित करेगा.

Check Also

शनिश्चरी अमावस्या एवं सूर्य ग्रहण आज एक साथ; भारत में नहीं दिखेगा सूर्य ग्रहण का असर

भोपाल (Bhopal) . आज शनिश्चरी अमावस्या एवं सूर्यग्रहण एक साथ है. इस अवसर पर राजधानी …