Saturday , 8 May 2021

दूसरे प्रदेशों से आने वाले लोगों को निगेटिव आने पर भी होगा क्वारंटाइन

पटना (Patna) . बिहार (Bihar) में दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों को कोरोना जांच में निगेटिव आने पर भी क्‍वारंटाइन रहना होगा. दरअसल, पिछले कुछ समय से कोरोना के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. इसके कारण काम बंद होगा तो एक बार फिर लोग वापस अपने प्रदेश आएंगे. उनके लिए क्वारंटाइन सेंटर के साथ-साथ उनके रोजगार का भी प्रबंध किया जा रहा है. यह बात मुख्यमंत्री (Chief Minister) नीतीश कुमार ने कही है. मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने सीएम सचिवालय स्थित संवाद में उनसे मुलाकात करने आये 2019 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के बिहार (Bihar) कैडर के 11 प्रशिक्षु पदाधिकारियों को यह जानकारी दी.

मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने कहा कि दुनिया के अन्य देशों की तुलना में कोरोना संक्रमण से होने वाली मृत्यु की दर भारत में कम है. कोरोना संक्रमण में भारत की औसत मृत्यु दर 1.3 है, जबकि बिहार (Bihar) की 0.5 है. टेस्टिंग के मामले में प्रति दस लाख की संख्या पर देश की औसत जांच दर से बिहार (Bihar) में आठ हजार ज्यादा जांच कराई गयी. बता दें कि टीकाकरण शुरू होने के बाद जांच की संख्या में काफी कमी आ गयी थी, जिसको देखते हुए हमने बैठक कर जांच की संख्या बढ़ाने का निर्देश दिया. संक्रमण के प्रति सजगता एवं जन जागरूकता के कारण बिहार (Bihar) में कम लोग प्रभावित हुए हैं. सबका दायित्व है कि टीकाकरण तेजी से हो

Please share this news