Wednesday , 16 June 2021

महिला आयोग में 12 हजार केस पेंडिंग

भोपाल (Bhopal) . महिला आयोग की अध्यक्ष और सदस्यों ने मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं. उनका कहना है कि उन्हें द्वारा प्रताडि़त किया जा रहा है. सरकार के कहने पर आयोग के प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा उनके बैठने के लिए आवंटित कक्षों में ताला डाल दिया गया है. इसकी वजह से वे आयोग में आने वाली प्रताडि़त महिलाओं को राहत तक नहीं दे पा रही हैं. उनसे कक्ष में बैठने तक का अधिकार छीन लिया गया है.

दरअसल महिला आयोग की अध्यक्ष शोभा ओझा व सदस्य संगीता शर्मा, शशि राजपूत और मीना सिंह ने गुरुवार (Thursday) को आयोग के उनकी नियुक्ति के एक साल पूरे होने पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए भाजपा सरकार को असंवेदनशील बताया. उनका कहना है कि यह स्थिति तब है जब आयोग में 12,839 गंभीर प्रकरण लंबित है.

Please share this news