Sunday , 11 April 2021

पलानीस्वामी ने विधानसभा चुनाव तिथियों के ऐलान से कुछ घंटे पहले माफ किया गोल्ड लोन, उलेमाओं की पेंशन बढ़ाई

नई दिल्ली (New Delhi) . तमिलनाडु (Tamil Nadu) में विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) की तारीखों का ऐलान हो चुका है. यहां 6 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे. 234 विधानसभा सीटों वाले इस राज्य में इस बार सियासी ऊंट किस करवट बैठेगा, यह तो 2 मई को ही साफ होगा, लेकिन राजनीतिक दलों ने चुनाव घोषणा होने से पहले ही सियासी समीकरण बिठाने शुरू कर दिए हैं. मुख्यमंत्री (Chief Minister) ई पलानीस्वामी ने विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) की तारीखों का ऐलान होने से कुछ घंटे पहले गोल्ड लोन माफ करने का ऐलान किया है. उनकी सरकार ने इसी माह उलेमाओं को नए दोपहिया वाहन की खरीद पर 50 फीसदी सब्सिडी देने और उनकी पेंशन दोगुनी करने का ऐलान किया है. राज्य में अब उलेमाओं को 1,500 रुपए की जगह 3,000 रुपए पेंशन देने का प्रावधान किया गया है.

तमिलनाडु (Tamil Nadu) में सब्सिडी के माध्यम से सियासी समीकरण साधने की शुरुआत अन्नादुरई के समय हुई थी, लेकिन उनके बाद आए करूणानिधि ने भी इसका हथियार के रूप में खूब इस्तेमाल किया. जयललिता ने भी सत्ता में बने रहने के लिए सब्सिडी और फ्री गिफ्ट का खूब इस्तेमाल किया. सन-2006 में फ्री गिफ्ट और सब्सिडी की सियासी लड़ाई असल रंग में आई थी, तब करूणानिधि ने फ्री कलर टीवी समेत कई योजनाएं शुरू कर डीएमके को सत्ता दिलवाई थी. इसके बाद ‘फ्रीबीज’ शब्द से गुरेज करने वाली जयललिता ने साल 2011 और 2016 में इसे लोक कल्याणकारी योजना बताकर सीएम की कुर्सी पर कब्जा जमा लिया था. जयललिता ने सन 2011 में चुनाव में मुफ्त चावल, छात्रों को लैपटॉप, मिक्सर ग्राइंडर और मंगलसूत्र के लिए सोना (Gold) सहित कई घोषणाएं की थीं.

जयललिता ने अम्मा कैंटीन, अम्मा मिनरल वॉटर, अम्मा सीमेंट और अम्मा नमक जैसी योजनाएं चलाकर अपनी कल्याणकारी छवि को और मजबूत किया था. सन 2016 के विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) में 100 यूनिट मुफ्त बिजली, मोबाइल और दो पहिया वाहन खरीदने के लिए महिलाओं को 50 फीसदी सब्सिडी देने का भी ऐलान किया था. इस तरह लगातार दो बार जयललिता ने ‘फ्रीबीज’ के मास्टर स्ट्रोक के जरिए जीत का परचम लहराया था. इस बार भी सीधी लड़ाई एआईएडीएमके और डीएमके बीच है. वहीं, चुनाव से पहले सत्तारूढ़ एआईएडीएमके ने सब्सिडी और ‘फ्रीबीज’ को लेकर माहौल बना दिया है.

मुख्यमंत्री (Chief Minister) ई पलानीस्वामी ने विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) की तारीखों का ऐलान होने से महज कुछ घंटे पहले गोल्ड लोन माफ करने का ऐलान किया है. राज्य सरकार (State government) ने घोषणा की कि सहकारी बैंकों द्वारा किसानों और गरीबों को दिए गए 6 कैटेगरी में गोल्ड लोन को माफ किया जाएगा. इसी महीने तमिलनाडु (Tamil Nadu) सरकार ने उलेमा को नए दोपहिया की खरीद पर 50 फीसदी सब्सिडी देने और उनकी पेंशन भी दोगुनी करने का ऐलान किया है. अब उलेमा को 1,500 रुपए की जगह 3,000 रुपए पेंशन मिलेंगी. इसके अलावा तमिलनाडु (Tamil Nadu) वक्फ बोर्ड को आवंटित जमीन पर हज हाउस बनाने के लिए 15 करोड़ रुपए भी दिए जाएंगे.

क्रिसमस के मद्देनजर पलानीस्वामी सरकार ने बड़ा फैसला किया था. सरकार ने ईसाइयों को येरुशलम जाने के लिए सब्सिडी बढ़ा दी थी. प्रति व्यक्ति सब्सिडी की राशि 20 हजार रुपए से बढ़ाकर 37 हजार रुपए कर दी गई. उल्लेखनीय है कि 2011-12 में तत्कालिन मुख्यमंत्री (Chief Minister) जयललिता द्वारा यह पहल शुरू की गई थी.

Please share this news