भारत में हमलों के लिए पाकिस्तान ने ड्रोन से गिराए थे हथियार – Daily Kiran
Thursday , 28 October 2021

भारत में हमलों के लिए पाकिस्तान ने ड्रोन से गिराए थे हथियार

नई दिल्ली (New Delhi) . आईएसआई और अंडरवर्ल्ड की ओर से भारत में त्योहारों के दौरान सिलसिलेवार धमाकों की साजिश का भंडाफोड़ होने के बाद कई चौंकाने वाली जानकारियां सामने आ रही हैं. सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली में पकड़े गए आतंकियों के पास जो हथियार मिले हैं, उनका पंजाब (Punjab) में पाकिस्तान की ओर से ड्रोन के जरिए गिराए गए हथियारों से लिंक मिला है. माना जा रहा है कि हमले के लिए आतंकियों को हथियार ड्रोन के जरिए ही भेजा गया था. सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि दिल्ली पुलिस (Police) स्पेशल सेल की ओर से पकड़े गए आतंकवादियों के पास जो हथियार और विस्फोटक बरामद हुए हैं, वे भारत पाकिस्तान सीमा पर अमृतसर (Amritsar) में ड्रोन से गिराए गए हथियारों से मेल खाते हैं.

पाकिस्तान की ओर से आए ड्रोन ने अमृतसर (Amritsar) में हथियार गिराए थे जो 9 अगस्त को बरामद हुए थे. पंजाब (Punjab) पुलिस (Police) को टिफिन बम, ग्रेनेड और 100 पिस्टल कार्ट्रिज बरामद हुए थे. बाद में इसकी जांच नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) को सौंप दिया गया था. दिल्ली पुलिस (Police) ने जिन आतंकियों को पकड़ा है, उन्हें पाकिस्तान की आईएसआई ने ट्रेनिंग दी थी और अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का भाई भी साजिश में शामिल है. जांच में पता चला है कि आतंकियों को मेजर या लेफ्टिनेंट रैंक और गाजी नाम के अधिकारी ने ट्रनिंग दी थी. गाजी के दो सहायक जब्बार और हमजा थे. पुलिस (Police) ने इस टेटर मॉड्यूल के 6 सदस्यों को दबोचा है. पुलिस (Police) ने बताया कि ये आतंकवादी देश में आगामी त्योहारों के दौरान कई विस्फोट करने की योजना बना रहे थे. पुलिस (Police) ने कहा कि पाकिस्तान स्थित अनीस इब्राहिम, जो दाऊद इब्राहिम का भाई है, आतंकी योजना को अंजाम देने के लिए अंडरवर्ल्ड के गुर्गों से जुड़ा था. आरोपियों की पहचान जान मोहम्मद शेख (47) उर्फ ‘समीर, ओसामा (22), मूलचंद (47), जीशान कमर (28), मोहम्मद अबु बकर (23) और मोहम्मद आमिर जावेद (31) के तौर पर हुई है जिन्हें दिल्ली और उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कुछ हिस्सों में छापेमारी के बाद गिरफ्तार किया गया. पुलिस (Police) ने बताया कि गिरफ्तार लोगों में ओसामा और कमर पाकिस्तान में प्रशिक्षित आतंकवादी हैं जो आईएसआई के निर्देश पर काम करते थे. उन्हें आईईडी लगाने के लिए दिल्ली एवं उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में उपयुक्त स्थानों की तलाश करने का काम दिया गया था. विशेष पुलिस (Police) आयुक्त (स्पेशल सेल) नीरज कुमार ठाकुर ने कहा कि कई राज्यों में चलाए गए अभियान में पाकिस्तान से प्रशिक्षित दो आतंकवादियों सहित 6 लोगों को गिरफ्तार किया है. उनमें से दो, ओसामा और कमर इसी साल प्रशिक्षण के लिये पाकिस्तान गए थे, जिसके बाद वे भारत लौट आए थे.

Please share this news

Check Also

कांग्रेस देश और प्रदेश में नाम की बची, ये क्या कम उपलब्धि है:जयराम

करसोग . ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर का चुनाव चिन्ह कमल नंबर एक पर है और वो …