Friday , 16 April 2021

भारत में बांस के लिए अवसरों पर एक राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन


नई दिल्ली (New Delhi) . कृषि सहयोग और किसान कल्याण विभाग से संबंधित राष्ट्रीय बांस मिशन ने 25 और 26 फरवरी को वर्चुअल प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘भारत में बांस के लिए अवसरों और चुनौतियों पर राष्ट्रीय परामर्श’ पर दो दिवसीय सम्मेलन का आयोजन किया. इस कार्यक्रम के आयोजन में नीति आयोग और इन्वेस्ट इंडिया ने राष्ट्रीय बांस मिशन के साथ हाथ मिलाया. इस चिंतन बैठक सत्र का उद्देश्य समस्त मूल्य श्रृंखला में क्षेत्र के समग्र विकास को बढ़ावा देने के लिए बांस परितंत्र पर विचार-विमर्श करना था. विशेषज्ञों एवं विभिन्न क्षेत्रों के हितधारकों के विवेचन क्षेत्र के सामने आने वाले मुद्दों के केन्द्रित समाधान के लिए राष्ट्रीय बांस मिशन के प्रयासों में और तेजी लाएंगे.

केंद्रीय एमएसएमई मंत्री नितिन गडकरी ने एक समारोह के दौरान 25 फरवरी, 2021 को इस सम्मेलन का उद्घाटन किया जिसमें केंद्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, नीति आयोग के उपाध्यक्ष डॉ. राजीव कुमार, केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण राज्य मंत्री कैलाश चौधरी, कृषि, सहकारिता एवं किसान कल्याण विभाग में सचिव संजय अग्रवाल और पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्रालय में विशेष सचिव इंदरवर पांडे भी उपस्थित थे. बांस की खेती, अनुसंधान, नवोन्मेषण से जुड़े विभिन्न पहलुओं से संबंधित विख्यात पेशेवरों, उद्यमियों तथा उद्योग की भागीदारी और अनुसंधान संस्थानों, राज्य अधिकारियों, किसानों एवं उद्यमियों की उपस्थिति से सम्मेलन को लाभ पहुंचा.

सम्मेलन में रोपण सामग्री से लेकर हाई एंड इंजीनियर्ड उत्पादों और विपणन तक बांस उद्योग की आद्योपांत क्रमानुसार वृद्धि से संबंधित सभी विषयों पर चर्चा की गई. जिन विषयों पर चर्चा की गई, उनमें आत्मनिर्भर भारत के लिए बांस, निर्यातों एवं वैश्विक ब्रांडिंग को बढ़ावा देना, सफलता गाथाएं, फीडस्टॉक तथा बागानों की उपलब्धता, नवोन्मेषण, अनुसंधान एवं विकास, कौशल विकास, संस्थागत ऋण की सुविधा तथा अंतर्राष्ट्रीय सहयोग आदि शामिल थे.

Please share this news