Thursday , 6 August 2020
सावन के पहले सोमवार को भक्तों ने बाहर से किया भोलेनाथ का दर्शन

सावन के पहले सोमवार को भक्तों ने बाहर से किया भोलेनाथ का दर्शन

लखनऊ. सावन की पहली सुबह बारिश के संग शिव भक्तों ने सावन के प्रथम सोमवार को भोलेनाथ के दर्शन किए. डालीगंज के मनकामेश्वर मन्दिर मे भोर से ही लम्बी कतारें लग चुकी थी. चार बजे महंत देव्या गिरि ने भोलेनाथ की आरती की. उसके बाद दर्शन के लिए पट खोले गए. इस बार करोना के चलते भक्तों को मंदिर के अंदर प्रवेश नहीं करने दिया गया. मंदिर के द्वार के बाहर से ही लोगों ने दर्शन किए, इस बार करोना महामारी के कारण लोग भोलेनाथ का अभिषेक श्रृंगार तो नहीं कर पाए. लेकिन दूर से ही भोले को प्रसन्न करने के लिए जय जयकार की. डालीगंज के मनकामेश्वर मन्दिर मे भोर से ही लम्बी कतारें लग चुकी थी. चार बजे महंत देव्या गिरि ने भोलेनाथ की आरती की. उसके बाद दर्शन के लिए पट खोले गए. इस बार करोना के चलते भक्तों को मंदिर के अंदर प्रवेश नहीं करने दिया गया. मंदिर के द्वार के बाहर से ही लोगों ने दर्शन किए. इस बार दर्शन में थर्मल स्कैनर, हैंड सैनिटाइजर, मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग्र का ध्यान रखा गया. मन्दिर में खास अरघा बनावाया गया, जिसकी मदद से बाहर से जलाभिषेक भक्तो ने किया. मंदिर के आसपास का इलाका बोल बम बम, ओम नमः शिवाय के जयकारों से गूंज रहा था. सुबह 5.30 से बारिश के दौरान भी भक्तों का उत्साह देखने वाला था. बारिश के बीच बड़ी संख्या में भक्त हाथ जोड़े शिव की भक्ति में लीन थे.