Saturday , 19 June 2021

वृद्ध की गोली मारकर हत्या, ऊसर में फेंका शव, पांच के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मैनपुरी ( ). जिला के भोगांव में दो दिन पहले लापता हुए वृद्ध का शव शुक्रवार (Friday) की सुबह रुई गांव के पास ऊसर में पड़ा मिला. वृद्ध के सिर और सीने में गोली मारकर हत्या (Murder) की गई थी. पांच लोगों के खिलाफ हत्या (Murder) का मामला दर्ज कराया गया है. पुलिस (Police) आरोपियों की तलाश में दबिश दे रही है. 

भोगांव थाना क्षेत्र के गांव गैती निवासी विनीता यादव 17 मार्च को जिला मुख्यालय स्थित दीवानी न्यायालय में पेशी पर आए परिजनों से मिलने के लिए गई थीं. उनके साथ 69 वर्षीय जेठ सेवकराम व परिवार की अन्य महिलाएं भी थीं. परिजनों से मिलने के बाद महिलाएं घर वापस चली गईं, लेकिन सेवकराम घर नहीं पहुंचे. इसके बाद परिजनों ने उनकी तलाश की, लेकिन जानकारी नहीं हो सकी. इस बीच शुक्रवार (Friday) सुबह थाना पुलिस (Police) को गांव रुई के पास ऊसर में एक वृद्ध का शव पड़ा मिला. पहचान न होने के बाद पुलिस (Police) ने शव मोर्चरी में रखवाया.

जानकारी मिलने के बाद विनीता मोर्चरी पहुंची और उन्होंने उसकी शिनाख्त की. विनीता की ओर से मामले में तहरीर दी गई. इसमें कहा है कि हत्या (Murder) के एक पुराने मामले में चली आ रही रंजिश के चलते गांव के ही गौरव, सौरभ यादव, सेवानिवृत्त पुलिस (Police)कर्मी महाराम सिंह यादव, रामदास और विकास उर्फ संटू ने जेठ की हत्या (Murder) की है. मामला दर्ज करने के बाद पुलिस (Police) नामजद आरोपियों की तलाश में जुट गई है.

मृतक का भाई सहित पांच लोग जेल में हैं निरुद्ध

राशन कोटा को लेकर दो परिवारों के बीच हुई रंजिश में यह दूसरी हत्या (Murder) है. इससे पूर्व आरोपी पक्ष के परिवार के एक व्यक्ति की हत्या (Murder) कर दी गई थी. मृतक के परिजन और ग्रामीण सेवकराम की हत्या (Murder) की वजह इसी रंजिश को ही मान रहे हैं. उधर पुलिस (Police) संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.

थाना क्षेत्र के गांव गैंती निवासी राधाकिशन पुलिस (Police) सेवा में थे. 29 अप्रैल 2020 को वह छुट्टी पर घर आया था. तभी राशन कोटा के विवाद में उनकी हत्या (Murder) कर दी गई थी. उक्त हत्या (Murder) कांड में मृतक सेवकराम के राशन डीलर भाई कश्मीर सिंह व परिवार के अंकित यादव, हरदेव सिंह, मंजीत, गोविंद के खिलाफ हत्या (Murder) का मामला दर्ज कराया गया था. वर्तमान में सभी आरोपी जेल में निरुद्ध हैं. मृतक परिजनों व ग्रामीणों का मानना है कि उक्त रंजिश के चलते ही हत्या (Murder) कांड को अंजाम दिया गया है. उधर प्रभारी निरीक्षक विजय गौतम का कहना है कि जल्द से जल्द आरोपी सलाखों के पीछे होंगे.

अधिकारियों ने घटनास्थल का किया निरीक्षण

गांव रुई स्थित ऊसर में वृद्ध का शव मिलने की सूचना मिलने के बाद सीओ भोगांव अमर बहादुर सिंह ने घटनास्थल का निरीक्षण किया. वहीं मौके की स्थिति के बारे में एसपी अविनाश पांडेय को अवगत कराने के साथ ही शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा. 

शरीर पर थे जख्मों के निशान

जिस स्थान पर सेवकराम का शव मिला वह ऊसर जगह थी. शव को देखकर लग रहा था कि शव कम से कम दो दिन पुराना है. यानी बुधवार (Wednesday) को ही वृद्ध की हत्या (Murder) कर दी गई होगी. वहीं शरीर के कुछ हिस्सों पर गहरे जख्म नजर आए. जिन्हें देख कर लग रहा था कि किसी जानवर ने खाया होगा. 

तहरीर के आधार पर हत्या (Murder) की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की गई है. पुलिस (Police) ने पूछताछ के लिए कुछ संदिग्धों को हिरासत में लिया है. जल्द से जल्द हत्या (Murder) कांड का खुलासा किया जाएगा. - अमर बहादुर सिंह, सीओ सिटी.

 

Please share this news