Tuesday , 27 October 2020

हड़ताल पर ओला-उबर के ड्राइवर्स हजारों लोगों की यात्रा प्रभावित


नई दिल्ली (New Delhi) . टैक्सी वाहनों के लिए लोन अदायगी के स्थगन मोटेरियम को आगे बढ़ाने की मांग को लेकर मंगलवार (Tuesday) को मोबाइल ऐप बेस्ड टैक्स चालक दिल्ली एनसीआर में हड़ताल पर रहेंगे. चालक कोविड महामारी (Epidemic) के चलते हुए आर्थिक नुकसान को देखते हुए किराए बढ़ोत्तरी की मांग भी कर रहे है. मंगलवार (Tuesday) को चालक मंडी हाउस हिमाचल भवन के पास एकत्रित होकर अपनी मांग रखेंगे. दिल्ली के सर्वोद्य ड्राइवर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष कमलजीत सिंह बताया कि दिल्ली एनसीआर के करीब दो लाख चालक इस हड़ताल का हिस्सा होंगे.

हम हड़ताल के लिए मजबूर है क्योंकि सरकार (Government) से बार-बार अपील के बाद भी हमें कोई आर्थिक मदद उपलब्ध नहीं कराई गई है. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन (Lockdown) की वजह से चालक वित्तीय संकट से गुजर रहा है. आर्थिक तंगी के चलते वह अपने वाहनों की किस्त भी नहीं भर पा रहा है. लोन अदायगी के लिए मिली छूट की अवधि समाप्त हो गई है. बैंक (Bank) पहले से ही हम पर दबाव बना रहे है. ईएमआई नहीं दे पाने पर वाहन उठाने का डर शुरू हो गया है. गिल ने कहा कि हमारी मांग है कि किश्त के लिए स्थगन का आदेश आगे बढ़ाया जाएं. किराए में बढ़ोत्तरी की जाएं.

ओला उबर चालकों को दिए जाने वाले कमीशन को भी बढ़ाएं. यही नहीं चालकों ने कहा है कि ओवर स्पीडिंग के जो चालान राशि है उसे भी माफ किया जाएं. आपको बता दें कि अगर कैब ड्राइवर्स हड़ताल से दिल्ली एनसीआर के हजारों लोगों की यात्रा प्रभावित होगी क्यों कि सरकारी बसों में सीमित यात्रियों (Passengers) के ट्रैवल करने की अनुमति है और दिल्ली मेट्रो का संचालन अभी शुरू नहीं हुआ हैं.