Thursday , 29 July 2021

वायु प्रदूषण की समस्या से निपटने राष्ट्रीय स्वच्छ वायु कार्यक्रम तैयार किया गया

नई दिल्ली (New Delhi) . वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने प्रदूषण को गंभीर समस्या बताकर कहा कि वायु प्रदूषण की समस्या से व्यापक ढंग से निपटने के लिए एक दीर्घावधिक, समयबद्ध, राष्ट्र स्तरीय कार्यनीति के रूप में राष्ट्रीय स्वच्छ वायु कार्यक्रम तैयार किया गया है.

एक पूरक प्रश्न के उत्तर में जावड़ेकर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने लाल किले की प्राचीर से अपने संबोधन में पांच सालों में 100 शहरों की वायु गुणवत्ता में सुधार करने का संकल्प लिया था. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की इसी सोच के तहत राष्ट्रीय स्वच्छ वायु कार्यक्रम तैयार हुआ है. हर शहर में प्रदूषण का अपना कारण होता है और इसके तहत हर शहर में वायु गुणवत्ता में सुधार लाने की योजना बनाकर पैसा दिया जा रहा है. जावड़ेकर ने इस संबंध में विद्युत चालित वाहनों के उपयोग को प्रोत्साहित करने का भी जिक्र किया.

दिल्ली में प्रदूषण की समस्या का जिक्र कर जावड़ेकर ने कहा कि इस दिशा में केंद्र सरकार (Central Government)ने काम किया है, बदरपुर संयंत्र बंद किया गया है, पेरिफेरल एक्सप्रेस वे बनाने से हजारों ट्रकों की शहर में आवाजाही बंद हुई है और अन्य अनेक उपाय किए हैं. मंत्री ने कहा कि इन प्रयासों से दिल्ली में पिछले सालों की तुलना में प्रदूषण में कमी आई है.

दिल्ली में आम आदमी पार्टी सरकार पर परोक्ष निशाना साधकर जावड़ेकर ने कहा कि कुछ लोग श्रेय लेने का प्रयास करते हैं, लेकिन केंद्र सरकार (Central Government)के अनेक प्रयासों से यह संभव हुआ है. उन्होंने कहा कि सरकार प्रधानमंत्री के नेतृत्व में राज्यों के साथ मिलकर प्रदूषण कम करने की दिशा में काम करेगी.

Please share this news