Wednesday , 29 January 2020
जेफ बेजोस के कार्यक्रम में नारायण मूर्ति खफा

जेफ बेजोस के कार्यक्रम में नारायण मूर्ति खफा

जेफ बेजोस की कंपनी अमेजन का संभव समिट बुधवार को डेढ़ घंटे से अधिक देरी से शुरू हुआ. इसे लेकर इन्फोसिस के संस्थापक नारायण मूर्ति खफा हो गए. उन्होंने मंच से अपने वक्तव्य के दौरान कह दिया कि उन्हें इस तरह की देरी की आदत नहीं है. कार्यक्रम में हुई देरी के कारण उन्होंने अपने 20 लंबे भाषण को 5-6 मिनट में ही पूरा कर दिया. 100 से अधिक वैश्विक कारोबारी प्रमुख और विशेषज्ञ, 3,000 से अधिक लघु व सूक्ष्म कारोबारी और 70 से अधिक कारोबारी व तकनीक साझेदार इस सम्मेलन में शिरकत कर रहे हैं.

20 मिनट लंबे भाषण को मूर्ति ने 5-6 मिनट में ही खत्म कर दिया

मूर्ति ने नई दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में पूरी तरह से भरे सभागार में कहा कि हम डेढ़ घंटे से अधिक देर हो चुके हैं. मेरा भाषण 11.45 बजे (सुबह) खत्म हो जाना चाहिए था. लेकिन 11.53 हो चुका है. इसलिए मैं अपनी बात को संक्षेप में रखना चाहूंगा. मुझसे 20 मिनट बोलने की उम्मीद की गई थी. लेकिन अब मैं अपनी बात पांच मिनट में ही खत्म करना चाहूंगा. क्योंकि मुझे देरी की आदत नहीं है. अपनी बात रखने के बाद मूर्ति मंच से उतर गए, लेकिन उन्हें फिर से पुकारा गया और जेफ बेजोस ने खुद मंच पर आकर उन्हें धन्यवाद दिया.

कारोबारी साझेदार हैं नारायण मूर्ति और जेफ बेजोस

भारतीय कंपनी क्लाउडटेल में जेफ बेजोस की अमेजन डॉट कॉम और नारायण मूर्ति की कैटामरान वेंचर्स की संयुक्त हिस्सेदारी है. सख्त भारतीय ई-कॉमर्स नियमों का पालन करने के लिए अमेजन डॉट कॉम ने क्लाउडटेल में अपनी अधिकांश 25 फीसदी हिस्सेदारी प्रायोन बिजनेस सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड को बेच दी है. प्रायोन बिजनेस सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड का संचालन कैटामरान वेंचर्स करती है.