Friday , 10 April 2020
कोरोना लॉकडाउन: जरूरी चीजों के लिए मप्र सरकार ने किए हैं सभी इंतजाम

कोरोना लॉकडाउन: जरूरी चीजों के लिए मप्र सरकार ने किए हैं सभी इंतजाम

कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने शहर के लोगों से लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान सहयोग बनाए रखने की अपील की

. 21 दिन के देशव्यापी लॉकडाउन (Lockdown) में सहयोग देने के लिए मध्य प्रदेश भी तैयार है. शासन-प्रशासन स्तर पर इसके लिए व्यवस्था की जा रही है. लोगों को समझाया जा रहा है कि वे घबराएं नहीं और न ही अफवाह फैलाएं. कोरोना के खिलाफ फाइट में सरकार (Government) का सहयोग करें. इस दौरान जरूरी चीजों की सप्लाई की जाएगी, लेकिन भीड़ से बचें और अपने घर से बाहर न निकलें. सिर्फ जरूरी सेवा में लगे लोगों को ही बाहर निकलने की छूट रहेगी. उनके लिए पास बनाए जा रहे हैं.

प्रदेश के मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान ने 21 दिन के देशव्यापी लॉकडाउन (Lockdown) पर आम लोगों से अपील की है. अपने बयान में उन्होंने कहा लोग भयभीत न हों. इस दौरान पूरे प्रदेश में जरूरी सामान की सप्लाई की व्यवस्था की जाएगी. सभी जिलों के कलेक्टर्स को इस संबंध में निर्देश दे दिए गए हैं. प्रदेश सरकार (Government) अगले 21 दिन तक ये तय करेगी कि सभी को ज़रूरत का सामान मिल जाए. कोई चिंता न करे. रोजमर्रा की सभी चीजें आपको उपलब्ध कराई जाएंगी.

श्रम विभाग का आदेश

श्रम विभाग ने दैनिक मजदूरी करने वाले मजदूरों का ध्यान रखते हुए आदेश दिया है कि लॉक डाउन के दौरान किसी मजदूर का वेतन नहीं कटेगा और न ही किसी कर्मचारी की छंटनी की जाएगी. सरकार (Government) के हर निर्देश का पालन आवश्यक रूप से किया जाए. जो संस्थान आदेश नहीं मानेंगे, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

होम डिलिवरी की सुविधा

21 के इस देश व्यापी लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान सामान की होम डिलेवरी सुविधा पर कोई रोक नहीं रहेगी. भोपाल (Bhopal) में हुई पुलिस (Police) और जिला प्रशासन की संयुक्त बैठक में ये फैसला लिया गया. रोजमर्रा की चीजों की आपूर्ति, कालाबाजारी रोकने के लिए भी निर्देश दिए गए हैं. बैठक में मौजूद डीआईजी शहर इरशाद वली, कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने अफसरों को लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान कानून-व्यवस्था और अन्य व्यवस्था बनाए रखने की सख्त हिदायत दी है. स्थानीय थानों में प्राइवेट कर्मचारियों और व्यापारियों के पास बनाए जा रहे हैं, ताकि लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान इन लोगों को आने-जाने में दिक्कत न हो.

ये कर्मचारी रहेंगे मुस्तैद

1- पुलिस (Police)/अर्धसैनिक बल वर्दी में
2- जरूरी सेवाओं में लगे सरकारी कर्मचारी
3- स्वास्थ्य कर्मचारी
4- अग्निशमन कर्मचारी
5- जेल में तैनात कर्मचारी
6- उचित दर दुकान
7- विद्युत सेवा
8- जल विभाग
9- नगर निगम की सेवाओं के कर्मचारी
10- विधानसभा तथा संसद में कार्य करने वाले कर्मचारी
11- वेतन तथा लेखा विभाग
12- प्रेस तथा मीडिया (Media) कर्मचारी
13- बैंकों में कार्यरत खजांची तथा एटीएम से संबंधित कर्मचारी
14- इंटरनेट/ डाक तार व टेलीफोन विभाग से संबंधित कर्मचारी
15- ई-कामर्स तथा अन्य जरूरी सेवाओं जैसे खाद्य पदार्थ, दवाइयां वे मेडिकल इक्युपमेंट
16- खान-पान की वस्तुएं व किराना, फल/सब्जी व दूध/बेकरी, मांस-मछली इत्यादि
17- दूध डेयरी
18- किराना और केंद्रीय भंडार में काम करने वाले कर्मचारी
19- घर पर डिलीवरी करने के लिए रेस्टॉरेंट या टेक-अवे रेस्टॉरेंट से
20- केमिस्ट और फार्मेंसी की दुकानें
21- पेट्रोल (Petrol) पंप, एलपीजी एजेंसी उनके गोडाउन या उनमें भरण यातायात में संलग्न कर्मचारी
22- जानवरों और पशुओं के लिए चारा
23- एयर लाइंस का स्टाफ पॉयलेट इत्यादि
24- नगर निगम रजिस्ट्रार कार्यालय से जारी अधिकृत पास धारक

जनता से अपील

भोपाल (Bhopal) कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने शहर के लोगों से लॉक डाउन के दौरान सहयोग बनाए रखने की अपील की है. उन्होंने कहा लोग घबराएं नहीं.कोरोना (Corona virus) को लेकर अफवाहें ना फैलाएं. संयम बरतें. ज़रूरत पडऩे पर प्रशासन से संपर्क करें.डीआईजी इरशाद वली ने भी कहा जो भी कोई अफवाह फैलाएगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.साथ ही सोशल डिस्टेंस रखने की अपील भी की.