Saturday , 24 October 2020

ज्‍यादातर छात्र और उनके अभिभावक जेईई और नीट परीक्षा आयोजित करने के पक्ष में : पोखरियाल


नई दिल्ली (New Delhi) . जेईई और नीट परीक्षाओं के आयोजन को लेकर केंद्रीय शिक्षा (मानव संसाधन) मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा है कि ज्‍यादातर छात्र (student) और उनके अभिभावक परीक्षा आयोजित करने के पक्ष में हैं. निशंक ने यह भी कहा कि सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने भी अपने फैसले में यह भी कहा कि हम छात्रों का एकेडमिक वर्ष खराब नहीं कर सकते. उन्‍होंने लोगों/राजनीतिक दलों से इस मुद्दे पर बेवजह विरोध और राजनीति नहीं करने का आग्रह किया है.

निशंक ने बताया कि 80 फीसदी छात्र (student) जेईई और नीट परीक्षा के एडमिट कार्ड डाउनलोड कर चुके हैं. जेईई के लिए 8.58 लाख में से 7.50 लाख के आसपास एडमिट कार्ड डाउनलोड हो गए हैं, इसी तरह नीट के लिए15.97 लाख में से, 10 लाख से अधिक छात्रों ने अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड कर लिया है. उन्‍होंने बताया कि ज्‍यादातर मामलों में छात्रों की सुविधा के लिए परीक्षा केंद्रों को कई बार बदला गया है. 99% प्रतिशत स्‍टूडेंट्स को उनकी पसंद का केंद्र मिला है.

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने इन परीक्षाओं के लिए दिशानिर्देश और एसओपी तैयार किया है. इसके साथ ही बेहतर समन्वय के लिए एनटीए और राज्यों के बीच लगातार बैठक हो रही है. ज्ञात रहे कि नीट और जेईई एंट्रेस परीक्षाओं को स्थगित कराने की मांग देश में लगातार की जा रही है. गैर भाजपा शासित राज्‍यों के सीएम की बैठक बुधवार (Wednesday) को इस मुद्दे पर हुई. बैठक में पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री (Chief Minister) ममता बनर्जी ने सुझाव दिया था कि परीक्षा की तारीख आगे बढ़ाने की मांग के साथ मुख्यमंत्रियों को सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) जाना चाहिए.