Sunday , 6 December 2020

मंत्री हर्षवर्धन ने कहा, पीएम मोदी ने वाजपेयी जी के सपनों को उड़ान दी


नई दिल्ली (New Delhi) . डॉ.हर्षवर्धन, केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ने पंडित भागवत दयाल शर्मा पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस, रोहतक में अश्विनी कुमार चौबे, केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री और अनिल विज, गृह, स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा एवं शोध मंत्री, हरियाणा (Haryana) की मौजूदगी में नवनिर्मित ओटी (ऑपरेशन थियेटर) और आईसीयू परिसर का उद्घाटन किया. यह संपूर्ण परिसर 104.92 करोड़ रुपये के निवेश के साथ प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना (पीएमएसएसवाई) के तहत बनाया गया है.

इसमें सेंट्रल स्टेराइल सप्लाई डिपार्टमेंट (सीएसएसडी), प्रयोगशालाओं, 34 बेड वाले आईसीयू कॉरिडोर, दो मंजिलों में 16 मॉड्यूलर ऑपरेशन थिएटर, एनेस्थीसिया सेक्शन, डॉक्टरों (Doctors) के लिए प्री-ऑपरेटिव और पोस्ट-ऑपरेटिव चेंजिंग रूम, फैकल्टी रूम, क्लासरूम, लाइब्रेरी, कॉन्फ्रेंस रूम, सेमिनार रूम, आगंतुक क्षेत्र, डॉक्टर (doctor) और कर्मचारियों के लिए कैफेटेरिया शामिल है. इस परिसर में सोलर पीवी और सोलर हीटर, लिफ्ट मशीन रूम, ओटी के लिए एएचयू, प्लांट (10 लाख लीटर ऑक्सीजन उत्पादन क्षमता) के साथ मेडिकल गैस पाइपलाइन सिस्टम (एमजीपीएस) के साथ-साथ मॉनिटरिंग रूम, सर्विस ब्लॉक एचवीएसी चिलर्स, ट्रांसफॉर्मर, डीजी सेट और इलेक्ट्रिकल पैनल आदि सुविधाएं भी उपलब्ध है.

डॉ.हर्षवर्धन ने कहा, “वाजपेयी जी की सोच ने सुनिश्चित किया कि आजादी के 56 साल बाद, भारत को मौजूदा एक एम्स के साथ छह और एम्स मिले. नए एम्स बनाने में आने वाली बाधाओं और भारत के सभी हिस्से में सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली के विस्तार की जरूरत को समझते हुए 75 मौजूदा संस्थानों को उन्नत करने की योजना बनाई गई, जो सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक या ट्रॉमा सेंटर जैसी सुविधाओं के साथ लोगों को एम्स जैसी सेवाएं दे सकें. पंडित बीडी शर्मा पीजीआईएसएस को इसी सोच के साथ अपग्रेड किया है. उन्होंने पीएमएसएसवाई योजना में पूर्व स्वास्थ्य मंत्री मती सुषमा स्वराज के अत्यधिक योगदान और हरियाणा (Haryana) से उनके जीवन भर संबंध पर बात की. उन्होंने कहा, “वह राज्य में सबसे कम उम्र की कैबिनेट सदस्य थीं और आज इस आयोजन में बहुत खुश होती. यह कार्यक्रम उन्हें याद किए बगैर अधूरा रहेगा.