Sunday , 7 June 2020
मंत्री हरदीप पुरी बोले आरोग्य सेतु ऐप पर ग्रीन स्टेटस वालों को क्वारंटाइन करने की जरूरत नहीं

मंत्री हरदीप पुरी बोले आरोग्य सेतु ऐप पर ग्रीन स्टेटस वालों को क्वारंटाइन करने की जरूरत नहीं


नई दिल्ली (New Delhi) . 25 मई से शुरू होने जा रहे विमान सेवाओं को लेकर सबसे बड़ा सवाल यही है कि यात्रियों (Passengers) को क्वारंटाइन किया जाएगा या नहीं? इस बीच नागरिक विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने जिन यात्रियों (Passengers) में कोविड-19 (Kovid-19) के लक्षण नहीं हैं और आरोग्य सेतु ऐप पर ग्रीन स्टेटस है, उन्हें क्वारंटाइन में भेजे जाने की जरूरत नहीं है. उन्होंने यह भी कहा कि घरेलू उड़ान सेवाओं के 25 मई से शुरू होने और भारत में 31 मई तक लॉकडाउन (Lockdown) लागू होने के बीच कोई विरोधाभास नहीं है.

हरदीप सिंह पुरी ने फेसबुक पर लाइव सेशन में कहा, ”हम साफ कर चुके हैं कि यदि किसी के पास आरोग्य सेतु ऐप है और इसका स्टेटस ग्रीन है तो यह पासपोर्ट की तरह है. कोई व्यक्ति क्यों क्वारंटाइन चाहेगा.” पुरी ने कहा कि मंत्रालय की ओर से जारी विस्तृत गाइडलाइंस जारी की गई है. इस सवाल के जवाब में नागरिक विमानन मंत्री ने कहा कि वह इसकी कोई तारीख अभी नहीं बता सकते हैं. उन्होंने कहा, ”यदि आप खाने की इजाजत देंगे तो कैटरिंग को शामिल करना पड़ेगा, खाना सर्व करते हुए समस्या हो सकती है. अभी हमने 40 मिनट से तीन घंटे तक की फ्लाइट शुरू की है. पहले घर पर खाना खा लीजिए और फिर आइए. लेकिन पानी सर्व किया जाएगा.

हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि हम अगस्त से पहले ठीक-ठाक संख्या में अंतरराष्ट्रीय यात्री विमानों को शुरू करने की कोशिश करेंगे. वंदे भारत मिशन के तहत 25 दिनों के दौरान विशेष विमानों के जरिए करीब 50,000 नागरिकों को वापस ला पाएंगे. गौरतलब है कि कोरोना (Corona virus) को फैलने से रोकने के लिए देश में लागू लॉकडाउन (Lockdown) की वजह से दो महीने से अधिक समय से देश में विमान सेवाओं पर रोक है. अब सरकार (Government) ने 25 मई के कुछ रूटों पर घरेलू विमान सेवा शुरू करने का फैसला किया है. केंद्र सरकार (Government) ने घरेलू हवाई यात्रा के दौरान सभी यात्रियों (Passengers) के लिए आरोग्य सेतु ऐप अनिवार्य किया है. हालांकि, 14 साल से कम आयु के बच्चों को इससे छूट दी गई है.