Friday , 26 February 2021

सितंबर में विनिर्माण पीएमआई साढ़े आठ साल के उच्चस्तर पर

नई ‎दिल्ली . देश में विनिर्माण क्षेत्र की गतिविधियों में सितंबर में लगातार दूसरे महीने सुधार देखा गया है. एक मासिक सर्वे के अनुसार नए ऑर्डरों और उत्पादन में बढ़ोतरी से सितंबर में विनिर्माण गतिविधियां करीब साढ़े आठ साल के उच्चस्तर पर पहुंच गई हैं. आईएचएस मार्किट इंडिया का विनिर्माण खरीद प्रबंधक सूचकांक (पीएमआई) सितंबर में बढ़कर 56.8 पर पहुंच गया. अगस्त में यह 52 पर था. जनवरी, 2012 के बाद यह पीएमआई का सबसे ऊंचा स्तर है. आईएचएस मार्कवि के ‎विशेषज्ञों का कहना है ‎कि भारत की विनिर्माण गतिविधियां सही दिशा में बढ़ रही हैं. सितंबर के पीएमआई आंकड़ों में कई सकारात्मक चीजें हैं. कोविड-19 (Covid-19) अंकुशों में ढील के बाद कारखाने पूरी क्षमता से काम कर रहे हैं और उन्हें नए ऑर्डर मिल रहे हैं. अप्रैल में विनिर्माण पीएमआई नकारात्मक दायरे में चला गया था. इससे पिछले लगातार 32 माह तक यह सकारात्मक रहा था. पीएमआई के 50 से ऊपर रहने का अर्थ है कि गतिविधियों में विस्तार हो रहा है, जबकि 50 से कम संकुचन को दर्शाता है. उनका कहना है ‎कि कुल बिक्री को नए निर्यात ऑर्डरों से भी समर्थन मिला है. कोविड-19 (Covid-19) महामारी (Epidemic) फैलने के बाद पहली बार यह स्थिति बनी है. लगातार छह महीने तक गिरावट के बाद निर्यात भी सुधरा है.

Please share this news