Tuesday , 19 January 2021

मंडी बंद और MSP खत्‍म करने की बातें भ्रामक

50 वर्षों से भूमि पर काबिज किसानों को पट्टे दिये जाएंगे

भोपाल (Bhopal) . मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मंडियों और समर्थन मूल्य व्यवस्था को बंद करने वाली बातें भ्रामक और असत्य हैं. किसान इन बातों पर ध्यान न दें. प्रदेश में 50 वर्षो से एक-दो एकड़ कृषि भूमि पर काबिज परिवारों को पट्टे दिए जाएंगे.

cm-mandi

वे गुरुवार (Thursday) को सीहोर जिले के नसरुल्लागंज में 5 लाख किसानों के खातों में मुख्यमंत्री (Chief Minister) किसान कल्याण योजना की 100 करोड़ रुपये की राशि सिंगल क्लिक से ट्रांसफर करने के बाद सभा को सम्बोधित कर रहे थे.

पूरे प्रदेश के किसानों से सीधे जुड़े मुख्यमंत्री (Chief Minister) चौहान ने कृषकों से कृषि कानूनों पर चर्चा की और किसानों ने कृषि कानूनों का जोरदार स्वागत और समर्थन करते हुए तालियां बजाकर आभार व्यक्त किया. मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने कहा कि इन कानूनों से प्रदेश के लाखों किसानों के जीवन मे क्रांतिकारी बदलाव आएगा और 2022 तक किसानों की आय दोगुनी होगी.

मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने इस दौरान 42 करोड़ की लागत के 10 विकास और निर्माण कार्यो का लोकार्पण तथा 53 करोड़ से अधिक के 10 निर्माण कार्यो का भूमिपूजन भी किया. मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने नसरुल्लागंज अस्पताल के विस्तार के लिए 11 करोड़ रुपये की घोषणा भी की.

उन्होंने अनेक हितग्राहियों को मत्स्य और ग्रामीण विकास की विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित भी किया तथा मुख्यमंत्री (Chief Minister) पथ विक्रेता निधि योजना की राशि के चैक भी वितरित किये. विश्व विकलांग दिवस पर उन्होंने 50 दिव्यांगों को बैटरी और रिवर्स गेयर की सुविधायुक्त ट्रायसिकल भी भेंट की.

शिवराज सिंह चौहान ने सभा में घुटनों के बल बैठकर आमजनों का अभिवादन किया. मुख्यमंत्री (Chief Minister) चौहान ने कहा कि मैं एक बार नही लाख बार जनता को घुटने टेक कर प्रणाम करूगाँ. उन्होंने कहा कि वे शांतिप्रिय लोगों के लिए फूल से भी कोमल और दुष्टों के लिए बज्र से भी कठोर है. उन्होंने कहा कि गुंडे बदमाश प्रदेश से चले जाएं अन्यथा उनकी खैर नहीं है.

मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने कहा कि अब किसानों को आज़ादी होगी कि वे अपनी उपज कहीं भी बेच सकें. उन्होंने कहा कि मंडियों को बन्द करने की बातें भ्रामक और कोरी बकवास हैं. चौहान ने कहा कि किसानों को बरगलाया जा रहा है कि समर्थन मूल्य बन्द हो जाएगा. मैं जब तक जिंदा हूँ, तब तक कोई समर्थन मूल्य बन्द नहीं होगा.

उन्‍होंने कहा कि अब पटवारी हर हफ्ते सोमवार (Monday) और गुरुवार (Thursday) को मुख्यालय पर रहेंगे और लापरवाही मिलने पर कलेक्टर (Collector) जिम्मेदार होंगे. मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने कहा कि अब फसलों का आकलन भी आटोमेटिक मशीन से होगा,जिससे नुकसान के समय किसानों को वास्तविक लाभ मिल सके.

मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने ऑनलाइन सागर, रायसेन, खंडवा, ग्वालियर (Gwalior) और इंदौर (Indore) के एक एक कृषक से संवाद किया तथा उनसे खेती-किसानी की स्थिति तथा शासकीय योजनाओं की लाभ प्राप्ति के संबंध में चर्चा की.


Please share this news