Friday , 26 February 2021

भारतीय हॉकी टीम के लिए कोरोना संक्रमण का दौर सबसे खराब रहा : मनदीप

बेंगलूर . भारतीय हॉकी टीम के स्ट्राइकर मनदीप सिंह ने कहा है कि कोरोना महामारी (Epidemic) संक्रमण के दौरान जिस प्रकार का तनावपूर्ण समय गुजरा वैसा समय उनके जीवन में पहले कभी नहीं रहा है. मनदीप कप्तान मनप्रीत सिंह सहित उन छह पुरुष हॉकी खिलाड़ियों में शामिल थे जिन्हे राष्ट्रीय शिविर के लिए यहां पहुंचने के बाद पिछले महीने कोविड-19 (Covid-19) परीक्षण में संक्रमित पाया गया था.

मनदीप को संक्रमण के बाद सबसे पहले अस्पताल में भर्ती कराया गया था. कोविड-19 (Covid-19) से उबरने के बाद सभी छह खिलाड़ियों ने अपने व्यक्तिगत अभ्यास सत्र को फिर से शुरु कर दिया है. मनदीप ने कहा, ”हमने इस महामारी (Epidemic) के घातक होने के बारे में पढ़ा और सुना है, ऐसे में मुझे लगता है कि कोरोना (Corona virus) की चपेट में आने के बाद पहले कुछ दिन तनावपूर्ण और चिंतित करने वाले थे.” उन्होंने कहा, ”एक पेशेवर हॉकी खिलाड़ी के रूप में मैंने कुछ सबसे कठिन मैच हालातों का सामना किया है, पर मैंने कभी इस तरह के तनाव को कभी भी महसूस नहीं किया था.”

इस खिलाड़ी ने कहा, ”मैं इससे पहले कभी एंबुलेंस (Ambulances) में नहीं गया था, कभी गंभीर रूप से चोटिल भी नहीं हुआ हूं. ऐसे में यह सब मेरे लिए एक नया अनुभव था. बीमारी से उबरने के बाद हॉकी इंडिया ने हमें आराम करने के लिए घर लौटने का विकल्प दिया था, लेकिन हम यहीं रहना चाहते थे और दल के बाकी सदस्यों से फिर से मिलना चाहते थे.” कोविड-19 (Covid-19) से संघर्ष के दौरान टीम प्रबंधन से मिली सहायता और समर्थन से 25 साल का यह खिलाड़ी काफी संतुष्ट है. मनदीप ने कहा, ” हमारे पास रॉबिन अर्केल के रूप एक बहुत अच्छा प्रशिक्षक है और वह जानता है कि हमें कितनी मेहनत करनी है. हम इस समय नियमित कार्य-भार का केवल 50-60 फीसदी काम कर रहे हैं और रोजाना सिर्फ एक सत्र में भाग ले रहे है.”

Please share this news