Friday , 25 June 2021

महाराष्ट्र सरकार कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने की कर रही तैयारी- मुख्यमंत्री


मुंबई (Mumbai) , . महाराष्ट्र (Maharashtra) दिवस की पूर्व संध्या पर मुख्यमंत्री (Chief Minister) उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार (Friday) रात साढ़े आठ बजे सोशल मीडिया (Media) के माध्यम से राज्य के लोगों को संबोधित किया और मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने महाराष्ट्र (Maharashtra) दिवस और मजदूर दिवस की शुभेच्छा दी. उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि विशेषज्ञ भविष्यवाणी कर रहे हैं कि महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना की तीसरी लहर आएगी, भले ही तीसरी लहर आए, आर्थिक चक्र नहीं रुकना चाहिए. सरकार तीसरी लहर का सामना करने की तैयारी कर रही है. साथ ही उन्होंने कहा कि लोगों को ये जानने की उत्कंठा है कि क्या राज्य और अधिक कड़े प्रतिबंध लगाएगा? उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने में 15 से 20 दिन लगते हैं.

कुछ दिनों में जिले में प्लांट तैयार हो जाएंगे और फिर ऑक्सीजन की कमी दूर हो जाएगी. कोरोना की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए तैयारी चल रही है. कुछ ही दिनों में 275 ऑक्सीजन प्लांट चालू हो जाएंगे. उन्होंने कहा, कल (1 मई) से 18 से 44 वर्ष के बीच के नागरिकों का टीकाकरण शुरू हो रहा है. टीकाकरण केंद्र पर जाने के लिए जल्दी मत करो, 18 से 44 वर्ष के बीच के प्रत्येक नागरिक को टीका मिलेगा. जून-जुलाई तक टीकों की आपूर्ति सुचारु हो जाएगी. मई में महाराष्ट्र (Maharashtra) को 18 लाख खुराक मिलेगी जिसके बाद 18 से 44 वर्ष की आयु के नागरिकों को वैक्सीन का टीका उपलब्ध हो जाएगा.

उन्होंने कहा, 6 करोड़ नागरिकों को 12 करोड़ वैक्सीन की खुराक दी जाएगी. महाराष्ट्र (Maharashtra) में 18 से 44 वर्ष की आयु के 6 करोड़ नागरिक हैं. राज्य में अब तक 1 करोड़ 58 लाख नागरिकों को टीका लगाया गया है. देश में जनवरी से टीकाकरण शुरू हुआ. आज महाराष्ट्र (Maharashtra) में 1 करोड़ 58 लाख नागरिकों को टीका लगाया गया है. हम देशभर में नंबर एक राज्य हैं. हम परीक्षण और स्वास्थ्य सुविधाओं के मामले में भी नंबर एक राज्य हो सकते हैं. लेकिन दुर्भाग्य से यहां पेशेंट की संख्या में वृद्धि बहुत अधिक हैं. उन्होंने कहा, अचानक से रेमडेसिविर इंजेक्शन की मांग काफी बढ़ गई है. हर कोई रेमडेसिविर चाहता है. आपको रोजाना औसतन 50,000 इंजेक्शन की जरूरत होती है. वितरण केंद्र ने इसे अपने हाथों में ले लिया है. शुरू में हमने लगभग 26,700 इंजेक्शन की व्यवस्था की.

मैंने एक अनुरोध किया और वे मुझे 43,000 रेमडेसिविर करने के लिए सहमत हुए. मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने कहा कि, 7 करोड़ लाभार्थियों को मुफ्त गेहूं और चावल का वितरण की घोषणा के बाद से, शिवभोजन थाली से 15 लाख से अधिक नागरिकों को लाभ हुआ है. अबतक शिवभोजन थाली से 3 करोड़ 94 लाख नागरिकों को लाभ मिल चुका है और अगले 2 महीनों के लिए शिवभोजन थाली मुफ्त रहेगी. मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने आगे कहा कि पिछले एक साल में, स्वास्थ्य प्रणाली ने एक पल भी फुर्सत नहीं लिया है. पिछला साल बहुत तनावपूर्ण था. और यह तनाव कम होने के बजाय बढ़ा है. यहां तक ​​कि आपकी मशीनरी बिना प्रयोज्य के चल रही है. वह बहुत तनाव भी झेलेंगी. पिछले कुछ दिनों में कुछ जगहों पर दुर्घटनाएं हो रही हैं. नासिक और विरार में ऐसी दुर्घटनाएँ हो रही हैं.

फिर डॉक्टर, नर्स, वार्ड बॉय और उनके कर्मचारी हताश हो जाते हैं. नासिक दुर्घटना के बाद, मैंने वहां के कर्मचारियों से जूम पर बात की. कुछ मुझसे बात करते हुए रोने लगे. अब बारिश करीब आ रही है. इसके लिए, मैंने वर्तमान में राज्य के सभी जंबो कोविड सेंटरों के स्ट्रक्चरल और फायर ऑडिट करने का निर्देश दिया है. उन दुर्घटनाओं से बचने की कोशिश करें जो होने की संभावना है. इसके अलावा, लॉकडाउन (Lockdown) अवधि को बढ़ाया गया है क्योंकि राज्य में कोरोना की स्थिति गंभीर बनी हुई है. इसलिए राज्य में 15 मई तक कड़े प्रतिबंध लगाए गए हैं.

Please share this news