Sunday , 18 April 2021

लवजिहाद: रवि बनकर युवती के परिवार का जीता विश्वास

भोपाल (Bhopal) .राजधानी में लव ‎जिहाद के एक मामला प्रकाश में आया है. युवक रफीक युवती के पैरों की मा‎लिश करने के बहाने र‎वि यादव बनकर उसके प‎रिवार का ‎विश्वास जीता और बाद में युवती को अपने प्रेमजाल में फंसाकर शादी की तैयारी करने लगा. इसी बीच लोगों की भनक लग गई तो पूरी पोल खुल गई. यह मामला राजधानी के कोलार क्षेत्र का है. पुलिस (Police) ने कोलार के एक मंदिर में युवती से शादी करने की कोशिश करने वाले युवक के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है. आरोपित युवती से शादी करने के लिए रफीक से रवि बन गया था. उसने इसके लिए फर्जी आधार कार्ड भी बनवा लिया था.

पुलिस (Police) के अनुसार औबेदुल्लागंज इलाके में रहने वाली 23 साल की युवती चार साल पहले बीमार थी. उसे चलने फिरने में परेशानी होती थी. इस दौरान होशंगाबाद निवासी 23 वर्षीय युवक उसकी पैरों की मालिश करने के लिए आया करता था. उसने अपना नाम रवि यादव बताया था. करीब साल भर पहले युवती के घरवालों ने उसे मोबाइल दिया था, जिससे वह रवि से बात करने लगी. इस दौरान रवि ने युवती से अपने प्रेम का इजहार करते हुए शादी की बात की. परिचय के लिए आरोपित ने अपना आधार कार्ड दिया था. बाद में परिवार वाले भी शादी के लिए तैयार हो गए. रविवार (Sunday) 27 दिसंबर को एक मंदिर में शादी होना तय हुआ. शादी से पहले एक हिंदू संगठन के लोगों को रफीक की असलियत की भनक लग गई और उन्‍होंने पुलिस (Police) को इसकी सूचना दी. इसके बाद पुलिस (Police) युवक को लेकर थाने आ गई थी.

पुलिस (Police) की पूछताछ में आरोपित ने कबूल किया कि उसका वास्‍तविक नाम मो. रफीक है. सोमवार (Monday) को युवती ने कोलार थाने जाकर आरोपी रवि उर्फ मो. रफीक के खिलाफ शिकायत की, जिस पर पुलिस (Police) ने शून्य पर धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया. केस डायरी औबेदुल्लागंज भेजी जा रही है, जहां असल कायमी के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी. हालांकि जांच में यह बात भी आई है कि शादी से पहले आरोपित ने युवती के परिजनों का उसका सही नाम बता दिया था. इस बारे में पुलिस (Police) अधीक्षक (साउथ) सांई कृष्णा एस.थोटा का कहना है ‎कि आरोपित ने फर्जी आधार कार्ड बनाया था. उसने ऐसा क्यों किया, इसकी जानकारी जुटाई जा रही है. कोलार थाने में केस दर्ज कर केस डायरी औबेदुल्लागंज भेजी जा रही है.

Please share this news