Saturday , 8 May 2021

कोरोना के कारण भगवान सोमनाथ का मंदिर के द्वार आज से श्रद्धालुओं के लिए बंद


अहमदाबाद (Ahmedabad) . गुजरात (Gujarat) में जिस कदर कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है, उसे देखते हुए धार्मिक स्थल श्रद्धालुओं के लिए बंद किए जा रहे हैं. सौराष्ट्र स्थित द्वादश ज्योतिर्लिंगों में प्रथम भगवान सोमनाथ का मंदिर के द्वार शनिवार (Saturday) से अनिश्चितकाल तक श्रद्धालुओं के बंद हो जाएंगे.

सोमनाथ के मुख्य मंदिर के अतिरिक्त ट्रस्ट के अधीन अहिल्याबाई मंदिर, श्रीराम मंदिर (Ram Temple), लक्ष्मीनारायण-गीता मंदिर, भालका मंदिर, भीडभंजन मंदिर भी श्रद्धालुओं के लिए अगले आदेश तक बंद रहेगा. मंदिर की ओर से जारी प्रेस विज्ञिप्त के मुताबिक श्रद्धालु भगवान सोमनाथ की पूजा विधि ट्रस्ट की वेबसाइट www.somnath.org पर ओनलाइन पंजीकरण करवा सकेंगे. स्वर्ण कलश समेत पूजा ऑनलाइन कर सकेंगे. सोमनाथ ट्रस्ट के फेसबुक, ट्वीटर, इंस्ट्राग्राम, ट्रस्टी वेबसाइट पर से सोशल मीडिया (Media) के माध्यम से श्रद्धालु भगवान सोमनाथ के दर्शन कर सकेंगे.

राज्य में कोरोना की मौजूदा स्थिति को ध्यान में रखते हुए सोमनाथ ट्रस्ट की ओर से अकारण घर से बाहर नहीं निकलने की लोगों से अपील की गई है. सोशल डिस्टेंस मेंटेन करने, मास्क लगाने और बार बार हाथ धोने के साथ ही सरकारी गाइडलाइन का कड़ाई से पालन करने का अनुरोध किया गया है. दूसरी ओर राजकोट (Rajkot) के वीरपुर स्थित विख्यात जलाराम मंदिर (Ram Temple) भी दर्शनार्थियों के लिए बंद करने का फैसला किया गया है. 11 अप्रैल से 30 अप्रैल तक जलाराम मंदिर (Ram Temple) श्रद्धालुओं के लिए बंद रहेगा. मंदिर के साथ ही भंडारा भी 30 अप्रैल तक बंद रहेगा. कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए मंदि के गादीपति रघुराम बापा ने यह फैसला किया है.

Please share this news