Wednesday , 19 February 2020
बुमराह के खेल पर लक्ष्मण की जाहिर की चिंता, कोहली के खास गेंदबाज हैं बुमराह

बुमराह के खेल पर लक्ष्मण की जाहिर की चिंता, कोहली के खास गेंदबाज हैं बुमराह


नई दिल्ली. न्यूजीलैंड में खेली जा रही तीन मैचों की वनडे सीरीज के पहले दो मैच जीतकर न्यूजीलैंड ने सीरिज अपने नाम कर ली है. मंगलवार को सीरीज का तीसरा और अंतिम मैच माउंट माउंगानुई में होगा. इस दौरे पर भारतीय टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह अपनी चिर-परिचित लय में नजर नहीं आए हैं. बुमराह हाल में अपनी पीठ की चोट से उबरकर टीम में वापस आए हैं और आने के बाद से ही अपनी लय तलाश रहे हैं. पूर्व टेस्ट बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने बुमराह की फॉर्म पर चिंता जाहिर की है. साथ ही कीवी टीम के शानदार खेल की जमकर प्रशंसा की है.

अपने लेख में लक्ष्मण ने न्यूजीलैंड टीम के खेल की खूब प्रशंसा की है. कीवी टीम ने 5-0 से टी-20 सीरीज हराने के बाद वनडे सीरीज में शानदार वापसी करते हुए दोनों मैचों में जीत दर्ज कर सीरीज अपने नाम कर ली. हेम्लिटन में हुए पहले वनडे में मेजबान टीम ने 348 रन का पहाड़ सा लक्ष्य 11 गेंद शेष रहते हुए अपने नाम कर लिया. इसके बाद ऑकलैंड में जब एक वक्त पर वह 200 रन मुश्किल से पार करती दिख रही थी वहां उसने 273 रन बना दिए और उसके गेंदबाजों ने इस लक्ष्य को बखूबी बचा भी लिया.

लक्ष्मण ने कीवी टीम के सीनियर बल्लेबाज रॉस टेलर और मार्टिन गप्टिल के शानदार खेल की प्रशंसा की है साथ ही युवा खिलाड़ी काएल जेमिसन की भी तारीफ की. लक्ष्मण ने लिखा, जेमिसन से पहले टेलर यहां अकेली लड़ाई लड़ रहे थे. तब कीवी टीम का 220 रन पर पहुंचना भी कठिन दिख रहा था. लेकिन जेमिसन ने अपनी सूझबूझ भरी पारी से भारतीय टीम के लिए इस मैच को कड़ा बना दिया और अंत में कीवी गेंदबाजों ने इस टारगेट को आसानी से बचा भी लिया.

वहीं लक्ष्मण ने भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के खेल पर चिंता जाहिर है. बुमराह इन दोनों ही मैचों में एक भी विकेट अपने नाम नहीं कर पाए हैं और इस दौरान वह महंगे भी साबित हुए हैं. दोनों मैचों में अपने कोटे के 10 ओवर फेंककर बुमराह ने क्रमश: 53 और 64 रन खर्च किए.

लक्ष्मण ने लिखा,बुमराह की फॉर्म टीम इंडिया की चिंता का बड़ा कारण है. विराट के लिए बुमराह खास गेंदबाज हैं उन्हें जब भी विकेट की दरकार होती है,तब वह बुमराह को बॉल थमाते हैं लेकिन बुमराह यहां विकेट नहीं निकाल पा रहे हैं. इस दौरे पर बुमराह की लेंथ वह नहीं रह पा रही है, जिसके लिए वह जाने जाते हैं. इसके अलावा कीवी बल्लेबाज बखूबी उनका सामना भी कर रहे हैं.’