Friday , 16 April 2021

भारतीय टीम से मुकाबले के लिए रणनीति बनायी : लैंगर

बल्लेबाजों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीदें

सिडनी . क्रिकेट ऑस्ट्रलिया (सीए) के मुख्य कोच जस्टिन लैंगर ने कहा है कि उनकी टीम गुरुवार (Thursday) को भारतीय टीम के साथ शुरु हो रहे तीसरे क्रिकेट टेस्ट मैच में पूरी ताकत से उतरने के लिए तैयार है. लैंगर ने हालांकि माना कि उसके लिए यह आसान नहीं होगा क्योंकि भारतीय गेंदबाजों का प्रदर्शन अब तक अच्छा रहा है. मेजबान टीम के कोच को उम्मीद है कि उनके बल्लेबाज इस मैच में अपनी कमजोरियों को दूर करने में सफल रहेंगे. उन्होंने कहा कि हम बल्लेबाजी की अपनी कमजोरियों को दूर करने पर काम कर रहे हैं और भारतीय स्पिनरों का सामना करने के लिये रणनीति बना रहे हैं.

उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि हमें भारतीय स्पिनरों के खिलाफ अपनी रणनीति पर गौर करना होगा. आर अश्विन बहुत अच्छी गेंदबाजी कर रहा है और पिछले सप्ताह और उसके बाद हमने कड़ी मेहनत की है. लैंगर इस श्रृंखला में अबतक अपनी टीम के कम स्कोर पर कहा कि इसके पीछे एक अहम कारण भारतीय गेंदबाजों की सटीक और घातक गेंदबाजी रही है.

लैंगर ने कहा कि पिछली दो श्रृंखलाओं में भारतीय टीम का सबसे मजबूत पक्ष अनुशासन रहा है. मुझे पिछले दो टेस्ट मैच अच्छे लगे क्योंकि इनमें गेंद और बल्ले के बीच कड़ी प्रतिस्पर्धा देखने को मिली. ऐसे में जीत के लिए तीसरे टेस्ट में आपको अधिक मेहनत करनी होगी और इसी को टेस्ट क्रिकेट कहते हैं. भारतीय गेंदबाजों ने उनके बल्लेबाजों के लिये सीधी लाइन पर गेंद की और उसी अनुसार क्षेत्ररक्षण सजाया. उन्होंने कहा कि हम अभी तक जिन विकेटों पर खेले उनमें सीम मूवमेंट था और थोड़ी स्विंग भी मिल रही थी. भारत ने हमारे कुछ बल्लेबाजों के लिये सीधी लाइन पर गेंद की और उसी के अनुरूप क्षेत्ररक्षण लगाया. लैंगर ने अश्विन की भी जमकर तारीफ की और कहा कि उनके खिलाफ तेजी से रन बनाना आसान नहीं है.

उन्होंने कहा कि आप अश्विन को नजरअंदाज नहीं कर सकते हैं. कितने गेंदबाजों ने 380 टेस्ट विकेट लिये हैं. महान गेंदबाज वह होता है जिसके खिलाफ रन बनाना मुश्किल होता है. इसके साथ ही तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह अभी ऐसा गेंदबाज है, अश्विन इस तरह का गेंदबाज हैं और हम इससे अच्छी तरह अवगत हैं. उन्होंने कहा कि हम जानते हैं कि हम किस तरह की क्रिकेट खेलना पसंद करते हैं लेकिन श्रेय भारत को जाता है. उन्होंने सुनियोजित खेल दिखाया, अनुशासित गेंदबाजी की और जिन विकेटों पर हम खेले वे प्रतिस्पर्धी थे, इसलिए मैं अपने स्कोरिंग रेट को लेकर परेशान नहीं हूं.

Please share this news