Tuesday , 20 April 2021

मौनी अमावस्या स्नान पर्व पर लाखों ने लगाई डुबकी मेला प्रशासन ने कोविड-19 की गाइड लाइन का कराया पालन


हरिद्वार (Haridwar) . मौनी अमावस्या स्नान पर्व पर विभिन्न प्रांतों सहित स्थानीय लाखों श्रद्धालुओं ने हरकी पैड़ी सहित शहर के अलग-अलग गंगा घाटों पर स्नान कर पुण्य अर्जित किया. साथ ही मंदिरों में पूजा अर्चना करते हुए अपने परिजनों सहित शुभचिंतकों की कुशलता की कामना की. वहीं श्रद्धालुओं ने अपने पित्रों के निमित कर्मकाण्ड करते हुए पिण्ड दान किया. मेला प्रशासन की ओर से स्नान पर्व को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए व्यापक बदोबस्त किये करते हुए कोविड-19 (Covid-19) की गाइड लाइन का पालन कराया गया.

तीर्थनगरी में मौनी अमावस्या स्नान पर्व तड़के से ही हरकी पैड़ी सहित शहर के अलग-अलग गंगा घाटों पर श्रद्धालुओं का जमावाड़ा लग गया. विभिन्न प्रांतों से आये श्रद्धालुओं सहित स्थानीय लोगों ने स्नान करते हुए पुण्य अर्जित करते हुए मन्दिरों में पूजा अर्चना की गयी. मेला एवं स्थानीय प्रशासन की ओर से स्नान पूर्व को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए व्यापक बंदोबस्त किये गये थे. मेला ड्यूटी में आये पुलिस (Police) अधिकारियों सहित कर्मचारियों को स्नान पर्व की पूर्व संध्या पर भल्ला कॉलेज स्टेडियम में मेले के सम्बंध में ब्रीफ के जरिये मेले के सम्बंध में अहम जानकारियां देते हुए कैसे ड्यूटी को निभाना हैं उसके टिप्स दिये गये. मेला प्रशासन की ओर मेला क्षेत्र को 09 जोन और 25 सेक्टरों में विभक्त किया गया था.

मेलाधिकारी दीपक रावत, मेला आईजी संजय गुंज्याल, जिलाधिकारी सी रविशंकर और एसएसपी हरिद्वार (Haridwar) सेंथिल अबुदेई कृष्णराज एस द्वारा मेला क्षेत्र का भ्रमण करते हुए मेले के सम्बंध में तैनात पुलिस (Police) अधिकारियों व सेेक्टर प्रभारियों को निर्देश दिये गये. मेला प्रशासन की ओर से कोविड-19 (Covid-19) के सम्बंध में विशेष ध्यान रखते हुए केन्द्र व राज्य सरकार (State government) की गाइड लाइन का पालन कराया गया. जिन श्रद्धालुओं द्वारा गाइड लाइन का पालन न करते हुए बिना मास्क के स्नान के पहुंचने वालों के चालान करते हुए उनको मास्क वितरित किये. मेला प्रशासन की ओर यातायात प्लान सहित सुरक्षा के खास इंतजाम किये गये थे.

Please share this news