Sunday , 29 November 2020

दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर के बीच केजरीवाल की सर्वदलीय बैठक खत्म

नई दिल्ली (New Delhi) . राजधानी दिल्ली में कोरोना (Corona virus) के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए मुख्यमंत्री (Chief Minister) अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में चल रही सर्वदलीय बैठक समाप्त हो चुकी है. बताया जा रहा है कि इस बैठक में छठ पूजा के लिए कुछ देर के लिए छूट देने समेत कई अहम निर्णय लिए जाने की बात कही जा रही है. संभव है थोड़ी देर बात इस बैठक में लिए गए फैसलों के बारे में मीडिया (Media) को जानकारी दी जाए. इस बैठक में सीएम अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में कोविड-19 (Covid-19) के बढ़ते संक्रमण पर काबू पाने के लिए कड़े कदम उठाने को लेकर सभी दलों के नेताओं से चर्चा कर की. इस सर्वदलीय बैठक में भाजपा, कांग्रेस समेत सभी पार्टियों के नेता शामिल हुए हैं.

बताया जा रहा है कि भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के नेता बैठक में मुखर होकर अपनी बात रख रहे हैं. बता दें कि दिल्ली में बढ़ते कोरोना के मामलों पर अंकुश लगाने के लिए राज्य सरकार (State government) के साथ अब केंद्र ने भी कदम उठाने शुरू कर दिए हैं. गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने बताया है कि कोविड-19 (Covid-19) ड्यूटी के लिए अर्द्धसैनिक बलों के 45 डॉक्टर (doctor) और 160 चिकित्साकर्मी दिल्ली पहुंच चुके हैं, वहीं भारतीय रेल राष्ट्रीय राजधानी को 800 बिस्तरों वाले कोच उपलब्ध कराएगा. डीआरडीओ दिल्ली हवाईअड्डे

गृह मंत्रालय (Home Ministry) के प्रवक्ता ने बताया कि गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने विशेषज्ञों की 10 टीमें बनाई हैं जो दिल्ली के 100 से ज्यादा निजी अस्पतालों में जाकर वहां बिस्तरों के उपयोग, जांच की क्षमता और आईसीयू के लिए अतिरिक्त बिस्तरों की पहचान करने का काम करेंगी. टीमें अस्पतालों का दौरा कर रही हैं. अधिकारियों ने बताया कि भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद आईसीएमआर और दिल्ली सरकार साथ मिलकर नवंबर के अंत तक 60,000 आरटी-पीसीआर जांच प्रतिदिन की क्षमता विकसित करने पर काम कर रहे हैं. प्रवक्ता ने बताया कि 17 नवंबर को दिल्ली में रोजाना 10,000 जांच की क्षमता है. अधिकारी ने बताया कि दिल्ली में घर-घर जाकर सर्वे करने की योजना अंतिम चरण में हैं और उसके इसी सप्ताह शुरू होने की संभावना है. सर्वे 25 नवंबर तक पूरा होने की आशा है. प्रवक्ता के अनुसार, भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बीईएल) ने बेंगलुरु (Bangalore) से 250 वेंटिलेटर भेजे हैं जो सप्ताह के अंत तक दिल्ली पहुंचेंगे.