Friday , 25 June 2021

केजरीवाल राजस्व बढ़ौत्तरी के नाम पर शराब बिक्री को बढ़ावा दे रहे है: अनिल कुमार

नई दिल्ली (New Delhi) . अरविन्द सरकार द्वारा राजस्व वृद्धि के लिए बनाई गई नई एक्साईज नीति के तहत शराब की बिक्री की बढ़ौत्तरी हेतू शराब माफियाओं को मुनाफा पहुॅचाने के विरोध में आज हजारों कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के नेतृत्व में सिविल लाईन्स स्थित मुख्यमंत्री (Chief Minister) निवास का घेराव किया. प्रदर्शनकारियों (Protesters) में भारी संख्या में महिलाऐं भी शामिल थी.

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि लॉकडाउन (Lockdown) और बढ़ती मंहगाई के कारण देश व दिल्ली की जनता आर्थिक संकट से जूझ रही है और युवा रोजगार के लिए परेशान है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ता अरविन्द केजरीवाल द्वारा शराब पीने की उम्र करने के फैसले का विरोध करने आया है.

प्रदर्शनकारियों (Protesters) में चौ0 अनिल कुमार के साथ प्रदेश उपाध्यक्ष सर्व जय किशन और अली मेंहदी, पूर्व विधायक चौ0 मतीन अहमद, कुवंर करण सिंह, सुरेन्द्र कुमार, विजय लोचव, भीष्म शर्मा, आसिफ मौहम्मद खान, अमरीश गौतम और वीर सिंह धींगान, संदीप गोस्वामी, अभिषेक दत्त, मुदित अग्रवाल परवेज आलम, निगम पार्षद कु. रिंकू, दर्शना जाटव, प्रेरणा सिंह, जुबैर अहमद, राजेन्द्र बागड़ी, यासमीन किदवई और श्रीमती राज, जिला अध्यक्ष दिनेश कुमार एडवोकेट, हरी किशन जिंदल, कैलाश जैन, मौहम्मद उस्मान, गुरचरण सिंह राजू और राजेश चौहान, प्रियंका सिंह, विजय कुमार, सुमेश गुप्ता, एडवोकेट सुनील कुमार और राजेश गर्ग सहित महिला कांग्रेस, युवा कांग्रेस, सेवादल, एन.एस.यू.आई. सहित विभागों के भारी संख्या में कार्यकर्ता केजरीवाल सरकार के खिलाफ ‘‘केजरीवाल सरकार शराब का व्यापार बंद करो-बंद करो’’, ‘‘युवाओं को था रोजगार का भरोसा-केजरीवाल ने शराब परोसा’’, ‘‘केजरीवाल होश में आओ-होश में आओ’’ आदि नारे लगा रहे थे.

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविन्द केजरीवाल सत्ता में आने से पहले कहते थे कि हम राजनीति बदलने आए है, क्या केजरीवाल दिल्ली के युवाओं को नशे में झोंक कर दिल्ली की राजनीति बदलने वाले है. चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि अरविन्द सरकार राजस्व बढ़ाने की आढ़ में देश का भविष्य युवाओं को खतरे में डालकर अंधकारमय बनाने का काम कर रहे है, जबकि शराब बढ़ाने की उम्र कम करने की बजाए युवाओं के लिए रोजगार मुहैया कराने चाहिए, जनता को किए अपने वायदे अनुसार कॉलेज खोलने चाहिए थे.

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि केजरीवाल दिल्ली के विकास को छोड़ दूसरे राज्यों में नई नीति के नाम पर चुनाव लड़ने जाते है और पंजाब (Punjab) में मजीठिया के खिलाफ नशामुक्ति के नाम पर चुनाव लड़ा और पंजाब (Punjab) की तर्ज पर ही दिल्ली को नशे की राजधानी बनाने जा रहे है. उन्होंने कहा कि केजरीवाल राजस्व बढ़ौत्तरी के नाम पर शराब पीने की उम्र 21 वर्ष करके दिल्ली को नशे की ओर धकेलने का कांग्रेस पार्टी विरोध पूरी दिल्ली में घर-घर तक करेगी.

चौ0 अनिल कुमार ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से अपील की कि संक्रमण काल में दिल्ली और दिल्लीवासियों की जिस तरह सेवा की थी आज दिल्ली की अरविन्द सरकार की शराब की नीति के विरोध घर-घर तक लोगों को शराब से बचाने का काम करेंगे और आम आदमी पार्टी की जन विरोधी नीति और असफल प्रशासन के चेहरे को उजागर करेंगे.

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि अरविन्द केजरीवाल यह कहकर दिल्ली की जनता को भ्रमित कर रहे है कि दिल्ली में सरकार की कोई शराब की दुकान नही होगी, वह यह नही बताते कि सभी सरकारी दुकानों को नीजि हाथों में सौंपकर इसका निजीकरण करने जा रहे है और जिस शराब माफिया को खत्म करने की बात कर रहे है, शराब का नीजिकरण करने के बाद शराब ज्यादा सक्रिय हो जाएगा, क्योंकि सरकार का नियंत्रण खत्म हो जाएगा. उन्होंने कहा कि अरविन्द सरकार की शराब की बिक्री से 20 प्रतिशत राजस्व बढ़ाने के 8000 करोड़ के लक्ष्य को पूरा करने के लिए नई नीति की घोषणा की है.

Please share this news