डीएमके नेता ई वी वेलु के ठिकानों पर लगातार दूसरे दिन पड़े आईटी के छापे

चेन्नई (Chennai) . तमिलनाडु (Tamil Nadu) में आयकर विभाग के अधिकारियों ने शुक्रवार (Friday) को लगातार दूसरे दिन डीएमके के वरिष्ठ नेता और विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) में उम्मीदवार ईवी वेलु के ठिकानों पर छापेमारी की थी. इससे पहले आयकर विभाग ने बृहस्पतिवार को भी ईवी वेलु से जुड़े ठिकानों पर छापे मारे थे. द्रमुक ने सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक और उसके गठबंधन साझेदार भाजपा को इसके लिए जिम्मेदार बताया. सूत्रों ने बताया कि संदिग्ध चैक्स चोरी के मामले में छापेमारी सुबह शुरू हुई. वेलु का संबंध तमिलनाडु (Tamil Nadu) के तिरुवन्नमलई जिले से है.आयकर विभाग ने संकेत दिये कि छापे की कार्रवाई के बारे में जल्द ही बयान जारी किया जा सकता है.

द्रमुक के महासचिव दुरईमुरुगन ने कहा कि आयकर अधिकारियों ने तिरुवन्नमलुई में वेलु के आवास तथा उसने संबंधित अन्य ठिकानों पर छापे मारे. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एमके स्टालिन के बाद दूसरे नंबर की हैसियत रखने वाले दुरईमुरुगन ने कहा, ‘द्रमुक इस छापेमारी को राजनीतिक रूप से प्रेरित मानती है.’ उन्होंने कहा कि आयकर विभाग ने एक कॉलेज समेत वेलु के एक गेस्ट हाउस पर भी छापेमारी की, जहां स्टालिन ठहरे हुए हैं. ये निंदनीय है. दुरईमुरुगन ने कहा कि ये कार्रवाई द्रमुक का मनोबल नहीं गिरा सकती, उल्टा इससे केवल सहानुभूति तथा वोट हासिल होंगे. द्रमुक नेता ने कहा कि अन्नाद्रमुक ने भाजपा नीत केंद्र सरकार (Central Government)के साथ मिलकर छापेमारी का षड़यंत्र रचा क्योंकि सत्तारूढ़ पार्टी को अपने सामने करारी हार दिखाई दे रही है.

Please share this news