Thursday , 15 April 2021

अंतरराज्यीय लिंग जांच गिरोह का भंडाफोड़, महिला एजेंट गिरफ्तार

फतेहाबाद . स्वास्थ्य विभाग की टीम ने एक अंतर्राज्यीय लिंग जांच गिरोह का भंडाफोड़ किया है. इस लिंग जांच गिरोह की एक महिला एजेंट को कस्टडी में लेते हुए स्वास्थ्य विभाग की टीम ने लिंग जांच की एक डील की एवज में ली गई 46 हजार रुपये की नकदी भी आरोपी एजेंट से बरामद की है. आरोपी महिला एजेंट फतेहाबाद के ही गांव कालोठा की रहने वाली है और महिला जिस गिरोह से जुड़ी है वह गिरोह हरियाणा (Haryana) और पंजाब (Punjab) में लिंग जांच का अवैध धंधा कर रहा है.

इस पूरी कार्रवाई के बारे में जानकारी देते हुए फतेहाबाद के सिविल सर्जन डॉ. मनीष बंसल ने बताया कि आरोपी महिला एजेंट पंजाब (Punjab) के एक डॉक्टर (doctor) के साथ मिलकर हरियाणा (Haryana) और पंजाब (Punjab) में लिंग जांच का गिरोह चला रही थी. इसके बारे में सूचना मिलने के बाद डीसी फतेहाबाद के आदेश पर ड्यूटी मजिस्ट्रेट की नियुक्ति के साथ एक टीम गठित की गई और डिकॉय के तौर एक गर्भवती महिला एजेंट के पास भेजा गया. महिला एजेंट की स्वास्थ्य विभाग की डिकॉय के साथ 1 लाख रुपये में लिंग जांच की डील फाइनल हुई. स्वास्थ्य विभाग की डिकॉय को आरोपी महिला एजेंट अपने साथ लेकर पंजाब (Punjab) में लिंग जांच के लिए चली गई और स्वास्थ्य विभाग की टीम पूरी निगरानी के साथ आरोपी महिला एजेंट का पीछा करती रही. पंजाब (Punjab) के भिखी कस्बा के पास अचानक महिला एजेंट को डिकॉय पर शक हुआ और एजेंट ने भागने की कोशिश की. भागने की कोशिश करने के दौरान आरोपी महिला एजेंट को तुरंत हिरासत में ले लिया गया और उसके पास से लिंग जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग की डिकॉय से एडवांस ली गई 46 हजार रुपये की नकदी भी बरामद की गई.आरोपी महिला एजेंट को फतेहाबाद लाया गया और उसके खिलाफ रतिया थाना में एफआईआर (First Information Report) दर्ज करवाई गई है. सिविल सर्जन ने बताया कि महिला एजेंट के साथ उसके गिरोह में शामिल अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस (Police) और स्वास्थ्य विभाग की टीम आगामी कार्रवाई कर रही है.

Please share this news