Tuesday , 27 July 2021

वडोदरा में 24 हजार करोड़ के निवेश से 6 नए प्रोजेक्ट शुरू करेगी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन

अहमदाबाद (Ahmedabad) (अहमदाबाद (Ahmedabad)). इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन गुजरात (Gujarat) में 24 हजार करोड़ रुपए के निवेश के साथ वडोदरा (Vadodara)में 6 नए प्रोजेक्ट स्थापित करेगी. गुजरात (Gujarat) के मुख्यमंत्री (Chief Minister) विजय रूपाणी और केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस और इस्पात मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान की उपस्थिति में सोमवार (Monday) को गांधीनगर (Gandhinagar) में इस संबंध गुजरात (Gujarat) सरकार और इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के बीच समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए गए.

गुजरात (Gujarat) सरकार की ओर से मुख्यमंत्री (Chief Minister) सह उद्योग विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव एम.के. दास और इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन की ओर से कंपनी के चेयरमैन श्रीकांत माधव वैद्य ने इस एमओयू पर हस्ताक्षर कर उसका आदान-प्रदान किया. केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने गुजरात (Gujarat) सरकार और आईओसीएल के बीच हुए 24 हजार करोड़ रुपए के निवेश के एमओयू के लिए गुजरात (Gujarat) सरकार और आईओसीएल को बधाई दी. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि समूची दुनिया क्लाइमेट चेंज और ग्लोबल वार्मिंग के बारे में चिंता कर रही है, लेकिन गुजरात (Gujarat) ने डेढ़ दशक पहले ही उसकी चिंता करते हुए प्राकृतिक गैस का बड़े पैमाने पर उपयोग शुरू कर दिया था. प्रधान ने कहा कि भारत में कुल ऊर्जा खपत में प्राकृतिक गैस की हिस्सेदारी लगभग 6 फीसदी है जबकि वैश्विक स्तर पर यह हिस्सेदारी 24 फीसदी के करीब है. वहीं, गुजरात (Gujarat) में प्राकृतिक गैस की हिस्सेदारी 26 फीसदी है, जो वैश्कि औसत से भी 2 फीसदी अधिक है.

उन्होंने कहा कि जब देश और दुनिया के साथ किसी भी मामले की तुलना की जाती है, तब गुजरात (Gujarat) की विशेषता नजर आती है. इस संदर्भ में प्रधान ने कहा कि गुजरात (Gujarat) ने उद्योगों के विकास के साथ जनहित यानी लोक कल्याण का संतुलन साधते हुए वेल्थ क्रिएशन का नया दर्शन दिया है. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हाइड्रोजन को दुनिया के सबसे स्वच्छ ईंधन के रूप में माना जाता है. वडोदरा (Vadodara)रिफायनरी में हाइड्रोजन का उत्पादन होगा. विश्व प्रसिद्ध पर्यटक स्थल केवड़िया, वडोदरा, गांधीनगर (Gandhinagar) , कर्णावती और गांधीधाम में गुजरात (Gujarat) राज्य सड़क परिवहन निगम (जीएसआरटीसी) और आईओसीएल के संयुक्त प्रयासों से हाइड्रोजन संचालित बसें सबसे पहले गुजरात (Gujarat) में शुरू की जाएंगी.

धर्मेन्द्र प्रधान ने कोरोना महामारी (Epidemic) के दौरान स्वास्थ्य प्रबंधन को लेकर गुजरात (Gujarat) सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि गुजरात (Gujarat) ने ऑक्सीजन की अपनी जरूरतों के साथ संतुलन बिठाते हुए देश के अन्य राज्यों को भी ऑक्सीजन की आपूर्ति की है. उन्होंने कहा कि गुजरात (Gujarat) निवेशकों की पहली पसंद बना है, इसके मूल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) (Prime Minister Narendra Modi) द्वारा राज्य के सर्वग्राही विकास के लिए अपनाए गए नवीन आयोजन हैं. मोदी ने विकास की नई राह दिखाई है, जिसे राज्य के मुख्यमंत्री (Chief Minister) विजय रूपाणी और भी तेज गति से आगे बढ़ा रहे हैं. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इन परियोजनाओं का शिलान्यास आगामी दिनों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) (Prime Minister Narendra Modi) के हाथों से कराकर उसे समय पर पूरा किया जाएगा.

Please share this news