Wednesday , 23 June 2021

हरियाणा में आयकर विभाग ने छापे मारे


नई दिल्ली (New Delhi) . आयकर विभाग ने 17.03.2021 को रियल एस्टेट, आवास, हॉस्पिटैलिटी और खुदरा शराब के व्यापार में शामिल एक समूह से जुड़े स्थानों पर छापेमारी की. यह छापामारी अभियान समालखा, गुरुग्राम, रोहतक (Rohtak) और पंचकुला में स्थित 12 अलग स्थानों पर चलाया गया. छापेमारी की यह कार्रवाई कम्प्यूटरीकृत प्रणाली द्वारा चयनित और जारी फेसलैस जांच मूल्यांकन नोटिस का अनुपालन ना करने की वजह से की गई. फेसलैस मूल्यांकन योजना के तहत कुछ निर्धारितियों को भेजे गए नोटिस का, उनके द्वारा प्राप्त करने के बावजूद नियमित रूप से अनुपालन नहीं किया जा रहा था.

डेटा विश्लेषण से पता लगा कि प्राप्तकर्ता कम महत्व के व्यक्ति अथवा महत्वहीन व्यक्ति थे. इसके बाद आंतरिक और विवेकपूर्ण जांच में पता लगा कि वे शख्स उपरोक्त समूह का चेहरा थे और समूह के कुछ सदस्यों के लिए बेनामीदार भी थे. आगे की जांच में पता लगा कि जिन लोगों के नाम से नोटिस जारी किया जा रहा है वह समूह के द्वारा चलाए जा रहे शराब के व्यापार में शामिल थे. यह पाया गया कि जिन लोगों के नाम पर शराब के लाइसेंस जारी किए गए थे, वह मुख्य समूह के सदस्यों के बेनामीदार थे.

वे बिना महत्व के व्यक्ति थे और उन्होंने अपने बयान में कहा कि उन्हें अपने नाम पर चलाए जा रहे व्यापार के बारे में कोई जानकारी नहीं है. ऐसा लगता है कि एससी/एसटी वर्ग के लिए आरक्षित कोटे का लाभ उठाने के लिए उनके नामों का दुरुपयोग किया गया. असली मालिकों और पैसे का पता लगाने के लिए जांच की जा रही है. इन सभी मामलों में बेनामी निषेध अधिनियम के तहत उपयुक्त कार्रवाई की जाएगी.

Please share this news