Sunday , 25 July 2021

राजस्थान में निर्दलीय और BSP से कांग्रेस में आए विधायक बनाएंगे संयुक्त मोर्चा

जयपुर (jaipur) . राजस्थान (Rajasthan)में निर्दलीय और बहुजन समाज पार्टी से कांग्रेस में आए विधायक एक साथ मिलकर नई रणनीति तैयार करने की तैयारी में हैं. आगामी 23 जून को इनकी संयुक्त बैठक प्रस्तावित की गई है, जिसमें प्रदेश के सियासी हालातों को लेकर रणनीति तैयार की जाएगी. यह बैठक कांग्रेस आलाकमान पर दबाव बनाने के लिए गहलोत कैंप का एक नया पैंतरा है.

जानकारी के मुताबिक, 200 सदस्यों वाली राजस्थान (Rajasthan)विधानसभा में 13 निर्दलीय विधायक हैं जबकि छह विधायक डेढ़ वर्ष पूर्व बीएसपी का साथ छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए थे. ऐसे में अब गहलोत कैंप इन 19 विधायकों के जरिए प्रेशर पॉलिटिक्स की कवायद कर रहा है ताकि पायलट खेमा ज्यादा हावी ना हो पाए. वहीं, सचिन पायलट दिल्ली में लगभग छह दिन रहने के बाद जयपुर (jaipur)वापस लौट आए हैं. दिल्ली प्रवास में पायलट के हाथ कुछ नहीं लगा है, और गहलोत कैंप एक बार फिर उन्हें सियासी पटखनी देने में कामयाब रहा है. लेकिन प्रदेश प्रभारी अजय माकन का एक बयान सामने आया है जिसमें उन्होंने सचिन पायलट को पार्टी का एसेट और स्टार प्रचारक बताया है.

उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी समेत कई नेताओं की सचिन पायलट से लगातार बात हो रही है. माकन ने राज्य में मंत्रिमंडल का विस्तार जल्द होने की भी बात कही है. इसके बाद गहलोत कैंप का यह नया दांव सामने आया है. बता दें कि बीएसपी से कांग्रेस में शामिल हुए विधायकों और ज्यादातर निर्दलीय विधायक गहलोत गुट के पक्षधर हैं. बीएसपी से आए विधायकों ने हाल ही में दो बैठक कर पायलट खेमे के विरुद्ध मोर्चा खोला था तो वहीं कई निर्दलीय विधायकों ने भी अपने बयानों या सोशल मीडिया (Media) पोस्ट के जरिए मुख्यमंत्री (Chief Minister) अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) में अपना भरोसा जताया है.

Please share this news