चीन में माता-पिता को मिलेगी बच्चों की गलती की सजा, चीनी संसद विधेयक पर कर रही विचार – Daily Kiran
Saturday , 4 December 2021

चीन में माता-पिता को मिलेगी बच्चों की गलती की सजा, चीनी संसद विधेयक पर कर रही विचार

बीजिंग . चीन में अब बच्‍चों के अपराध की सजा मां-बाप को देने की तैयारी की जा रही है. चीन की संसद एक विधेयक पर विचार कर रही है, जिसमें प्रावधान है कि अगर युवा बच्‍चे बहुत खराब व्‍यवहार करते हैं या कोई आपराधिक हरकत करते हैं तो इसके लिए उनके माता-पिता को भी दोषी ठहराया जाएगा. परिवार शिक्षा प्रोत्‍साहन कानून के मसौदे में कहा गया है कि इसके लिए बच्चों के अभिभावक या संरक्षक को दंडित किया जाएगा. यही नहीं यदि अभियोजक पैरंट्स की देखरेख में पलने वाले बच्‍चे का बहुत खराब व्‍यवहार या आपराधिक गतिविधि करते पाते हैं, तो उन्‍हें फेमली ए‍जुकेशन गाइडेंस प्रोग्राम में भेजा जा सकता है. नेशनल पीपुल्‍स कांग्रेस के विधाई मामलों के आयोग के प्रवक्‍ता झांग तिइवेई ने कहा किशोरों के गलत व्‍यवहार के पीछे कई कारण हैं.

इसमें ठीक तरीके से पारिवारिक शिक्षा न मिलना या इसमें कमी भी एक बड़ा कारण है. पारिवारिक शिक्षा प्रोत्‍साहन कानून के मसौदे में पैरंट्स से अनुरोध किया गया है कि वे अपने बच्‍चों को आराम करने, खेलने और व्‍यायाम करने के लिए समय मुहैया कराएंगे. इस मसौदे पर इसी सप्‍ताह के एनपीसी के स्‍टैंडिंग कमिटी में समीक्षा की जाएगी. चीन इन दिनों युवाओं के ऑनलाइन गेम खेलने और इंटरनेट के सेलिब्रिटी की आंख मूंदकर पूजा करने के खिलाफ अभियान चलाए हुए है. चीन ने ऑनलाइन वीडियो गेम ‘आध्‍यात्मिक अफीम’ की संज्ञा दी है. हाल ही में शिक्षा मंत्रालय ने नाबालिग बच्‍चों के वीडियो गेम खेलने के घंटों को कम करने का ऐलान किया है. इन बच्‍चों को शुक्रवार (Friday), शनिवार (Saturday) और रविवार (Sunday) को ही एक घंटे ऑनलाइन गेम खेलने की अनुमति मिलेगी. चीन ने होमवर्क भी कम करने का ऐलान किया है और बड़े विषयों में स्‍कूल के बाद सप्‍ताहांत या छुट्टी के दिन ट्यूशन पढ़ाने पर बैन लगा दिया है. चीन को चिंता है कि बच्‍चे पढ़ाई के बोझ तले दबे हुए हैं.

Check Also

कोरोना से ठीक होने के बाद भी ओमीक्रोन होने का खतरा: अध्ययन

हेग . दक्षिण अफ्रीका के वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि जिन लोगों को कोविड-19 …