Friday , 27 November 2020

मैं बहुत ज्यादा प्रतिस्पर्धी नहीं, एक कलाकार के तौर पर मैं बहुत संतुष्ट हूं: दिव्येंदु शर्मा

मुंबई (Mumbai) . दिव्येंदु शर्मा 2011 में रिलीज हुई ‘प्यार का पंचनामा’ से मशहूर हुए, लेकिन वेब-सीरीज ‘मिजार्पुर’ के मुन्ना भैया के रूप में उन्होंने बड़ी उपलब्धि हासिल की. अभिनेता का कहना है कि वह खुद को भाग्यशाली मानते हैं क्योंकि उन्हें ऐसे किरदार मिले, जिन पर उन्हें गर्व है. 9 साल के इस सफर में दिव्येंदु ने चश्मे बद्दूर, दिल्लीवाली जालिम गर्लफ्रेंड, टॉयलेट: एक प्रेम कथा और बत्ती गुल मीटर चालू जैसी फिल्मों में अभिनय किया है.

मिजार्पुर के अलावा वह वेब स्पेस में परमानेंट रूममेट में भी दिखाई दिए हैं. दिव्येंदु ने कहा, यदि 9 साल में आपके पास ऐसी 4 से 5 फिल्में और 2 किरदार हैं जिन पर आप गर्व कर सकें, तो मुझे लगता है कि मुझे खुद को बहुत भाग्यशाली समझना चाहिए. मैं बहुत ज्यादा प्रतिस्पर्धी नहीं हूं. एक कलाकार के तौर पर मैं बहुत संतुष्ट हूं. निश्चित रूप से मैं अधिक चाहता हूं लेकिन मैं अलग-अलग किरदार और कहानियां रखना चाहता हूं.

उन्होंने कहा, मेरे खुश होने का कारण यह है कि अब लोग मुझे एक पूर्ण अभिनेता के रूप में देखते हैं. यदि मैं लिक्विड और मुन्ना का रोल निभा सकता हूं, तो आपके पास तुलना करने के लिए दो चीजें हैं क्योंकि वे पूरी तरह से उत्तरी ध्रुव से दक्षिण ध्रुव जैसे हैं. हर प्रोजेक्ट शानदार नहीं हो सकता है इसलिए आपको विश्वास के साथ आगे बढ़ना है. मुझे लगता है कि यह एक बहुत अच्छी शुरूआत है.