Wednesday , 16 June 2021

ऑस्टिन-जयशंकर की बैठक में अल्पसंख्यकों के मानवाधिकारों पर नहीं हुई चर्चा: सूत्र

– बैठक में सिर्फ अफगानिस्तान के संदर्भ में अल्पसंख्यकों का जिक्र किया गया

नई दिल्ली (New Delhi) . जो बाइडेन प्रशासन के शीर्ष मंत्री के रूप में पहली बार भारत पहुंचे अमेरिकी रक्षा मंत्री लॉयड जेम्स ऑस्टिन के साथ मानवाधिकरों के मुद्दे पर कोई चर्चा नहीं हुई. ऑस्टिन और विदेश मंत्री जयशंकर के बीच हुई बैठक में शामिल भारतीय उच्च स्तरीय सूत्रों का कहना है कि बैठक में सिर्फ अफगानिस्तान के संदर्भ में अल्पसंख्यकों का जिक्र किया गया था. हालांकि अमेरिकी मंत्री ने मीडिया (Media) से बातचीत में बताया था कि उन्होंने भारत में मानवाधिकारों को लेकर बात की थी. बैठक में शामिल भारतीय उच्च स्तरीय सूत्रों का कहना है कि बैठक में अमेरिकी रक्षा मंत्री के साथ मानवाधिकार पर कोई बात नहीं हुई. बल्कि दोनों देशों की साझा शक्तियों के रूप में मानव अधिकारों और मूल्यों पर चर्चा की गई थी. जानकारी के मुता‎बिक अल्पसंख्यकों का एकमात्र उल्लेख अफगानिस्तान के संदर्भ में किया गया था. उन्होंने कहा कि मैंने इस मुद्दे पर कैबिनेट के अन्य सदस्यों के साथ बातचीत की है. अमेरिकी रक्षा मंत्री ने कहा ‎कि मुझे लगता है कि हमें यह याद रखना होगा कि भारत हमारा साझेदार है, जिसकी साझेदारी हमारे लिए मायने रखती हैं और मुझे लगता है कि साझेदारों को सार्थक चर्चाएं किए जाने की जरूरत है.

ऑस्टिन शुक्रवार (Friday) को तीन दिनों के दौरे पर नई दिल्ली (New Delhi) पहुंचे थे. वह तीन देशों की यात्रा के तहत भारत आए हैं. उनके इस दौरे को बाइडन प्रशासन के हिंद-प्रशांत क्षेत्र में अपने करीबी सहयोगियों और साझेदारों के साथ संबंधों की मजबूत प्रतिबद्धता के रूप में देखा जा रहा है. शनिवार (Saturday) दोपहर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात के बाद ऑस्टिन ने विदेश मंत्री एस जयशंकर के साथ मुख्य वैश्विक घटनाक्रमों सहित कई मुद्दों पर चर्चा की. जयशंकर के साथ बैठक के दौरान ऑस्टिन ने कहा कि दुनिया में दो सबसे बड़े लोकतंत्रों के रूप में, मानवाधिकार और मूल्य महत्वपूर्ण हैं और अमेरिका इन मूल्यों के साथ नेतृत्व करेगा. जयशंकर ने सहमति व्यक्त की और जोर दिया कि दोनों लोकतंत्रों के बीच एक मजबूत रिश्ता न केवल दोनों देशों के लिए बल्कि दुनिया के बाकी हिस्सों के लिए महत्वपूर्ण है. ऑस्टिन से जब पूछा गया कि क्या अमेरिका ने भारत और चीन के बीच युद्ध के आसार पर सोचा था तो उन्होंने कहा कि ऐसा कभी नहीं माना. रक्षा मंत्री ऑस्टिन ने कहा ‎कि मेरी जानकारी में नहीं. हमने कभी नहीं माना कि भारत और चीन युद्ध की दहलीज पर हैं.

Please share this news