Tuesday , 22 June 2021

सर्वार्थ और अमृत सिद्धि योग में होगा होलिका दहन

भोपाल (Bhopal) . रंगों व जीवन में उत्साह भरने वाले होली त्योहार करीब आ रहा है. 28 मार्च रविवार (Sunday) को होलिका दहन होगा. 29 मार्च सोमवार (Monday) को लोग एक दूसरे को रंगों में सराबोर करेंगे. इस बार होलिका पूजन विशेष फलदायी होगा. कारण होलिका दहन के दौरान सर्वार्थ सिद्धि व अमृत सिद्धि योग है. होलिका दहन पर भद्रा का भी साया नहीं रहेगा. कारण 28 मार्च को दोपहर 1.50 बजे तक ही भद्रा है. ऐसे में लोग प्रदोष काल यानि शाम ढलने के साथ ही होलिका दहन कर सकेंगे.

शाम 6.30 से 8.45 बजे तक होलिका दहन शुभ

28 मार्च शाम 6 बजे तक उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र है. इसके बाद हस्त नक्षत्र आ जाएगा. हस्त नक्षत्र में होलिका दहन करना अति शुभ माना जाता हैं. लोग शाम 6.30 बजे से रात्रि 8.45 बजे तक अगर होलिका पूजन व दहन करते हैं तो यह विशेष फलदायी होगा. 28 को पूर्णिमा तिथि रात्रि 12.15 बजे तक है. लोग रात्रि 12.15 बजे तक भी होलिका दहन कर सकते हैं.

अंगारक योग भी बन रहा, गुरु मकर राशि में रहेंगे

पं. शास्त्री के अनुसार होलिका दहन के दिन शुक्र उच्च राशि मीन में सूर्य के साथ, शनि अपने स्वयं के घर मकर तथा गुरु अपनी नीच राशि मकर में रहेंगे. इन सभी योग से होलिका दहन के साथ ही देश को कोरोना महामारी (Epidemic) से छुटकारा मिल सकता है. सत्ता पक्ष का प्रभाव बढ़ेगा. राहु व मंगल का शुक्र की राशि में अंगारक योग बना है. उग्र दिन माने जाने वाले रविवार (Sunday) को होलिका दहन होने से आगजनी के मामले बढ़ सकते हैं.

Please share this news