हिन्दुस्तान ज़िंक के दूसरी तिमाही एवं छःमाही वित्तीय परिणामों की घोषणा : दूसरी तिमाही में 2,017 करोड़ रु. का शुद्ध लाभ – Daily Kiran
Saturday , 4 December 2021

हिन्दुस्तान ज़िंक के दूसरी तिमाही एवं छःमाही वित्तीय परिणामों की घोषणा : दूसरी तिमाही में 2,017 करोड़ रु. का शुद्ध लाभ

हिन्दुस्तान ज़‍ि‍ंक ने भूमिगत खदान परिर्वतन के बाद छःमाही में किया सर्वाधिक खनन धातु उत्पादन और खदान विकास

उदयपुर (Udaipur). जस्ता, सीसा और चांदी (Silver) की अग्रणी वैश्विक एकीकृत उत्पादक कंपनीहिन्दुस्तान ज़‍ि‍ंक लिमिटेड ने शुक्रवार (Friday) को आयोजित अपनी निदेशक मण्डल की बैठक में 30 सितम्बर 2021 को समाप्त छःमाही व दूसरी तिमाही के वित्तीय परिणामों की घोषणा की.
वित्तीय वर्ष की दूसरी तिमाही की प्रमुख उपलब्धियॉं:-
ऽ खनित धातु उत्पादनः 470केटी
ऽ रिफाइन्ड धातु उत्पादनः 445केटी
ऽ बिक्रीयोग्य चांदी (Silver) का उत्पादनः 313टन
ऽ ज़िंक सीओपीः 1096 डॉलर (Dollar) प्रति टन

हिन्दुस्तान ज़‍ि‍ंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अरूण मिश्रा ने वित्तीय वर्ष की दूसरी तिमाही के निष्पादन पर कहा कि ‘‘हमने भूमिगत खनन कार्यों में परिर्वतन के बाद दूसरी तिमाही में किया है सर्वाधिक खनन धातु उत्पादन और खदान विकास. एक मिलियन उत्पादन को मार्क देने के लिए सही मंच स्थापित करना, प्रभावी प्रणालियों और योजना के साथ, हमारी हिन्दुस्तान ज़‍ि‍ंक की टीम ने संचालनों की रीढ़ को मजबूत किया है. हम अपनी ईएसजी यात्रा पर भी अच्छी तरह से प्रगति कर रहे हैं और हम 2050 तक नेट शून्य उत्सर्जन के प्रति प्रतिबद्ध हैं. हिन्दुस्तान ज़‍ि‍ंक भी प्रकृति से संबंधित जोखिमों से सक्रिय रूप से निपटने के लिए वित्तीय प्रकटीकरण (टीएनएफडी) पर कार्यबल में शामिल हो गया है. हमें गर्व है औरब्रिटिश् हाई कमीशन कान्फ्रेंस ऑफ द पार्टिज (सीओपी26) में भाग लेने के लिए तत्पर हैं.’’

हिन्दुस्तान ज़‍ि‍ंक के अंतरिम मुख्य वित्तीय अधिकारी संदीप मोदी ने कहा कि ’’हमने परिचालन चुनौतियों और मौजूदा वैश्विक ऊर्जा संकट से बाहरी बाधाओं के बावजूद अबतक का सर्वाधिक छःमाही ईबीआईटीडीए दिया है. हम मानते हैं कि हमारे पीछे परिचालन चुनौतियों के साथ, हमने भविष्य में एक मजबूत डिलीवरी के लिए सिस्टम को रीसेट कर दिया है. हम अपने मार्जिन की रक्षा करने, मजबूत मुक्त नकदी प्रवाह उत्पन्न करने और सस्टेनेबिलिटी में निवेश करने के लिए प्रतिबद्ध है, जो सभी मिलकर हमें अपने शेयरधारकों के लिए लंबे समय तक चलने वाले मूल्य बनाने और वितरित करने में मदद करेंगे.

आपरेशनल प्रदर्शन

अयस्क: तिमाही में कुल अयस्क उत्पादन 3.99 मिलियन मैट्रिक टन रहा जो सालाना से 2.6 प्रतिशत अधिक है जो कि जावर और सिंदेसर खुर्द (एस.के.) खदानों में मजबूत वृद्धि के कारण तथा कायड़ और राजपुरा दरीबा (आरडी) खानों में आंशिक रूप से ऑफसेट रहने से कम उत्पादन रहा.

मेटल-इन-कॉन्सेंटेªट (एमआईसी): तिमाही में कुल एमआईसी उत्पादन 248 केटी रहा जो रामपुरा आगुचा, जावर और राजपुरा दरीबा खदानों में उच्च अयस्क उपचार के कारण सालाना 4.4 प्रतिशत ऊपर है, जो रिकवरी में सुधार द्वारा संभव है जिसे आंशिक रूप से कम ग्रेड करके ऑफसेट किया गया है. क्रमशः खनन धातु के उत्पादन में मुख्य रूप से सिन्देसर खुर्द, रामपुरा-आगुचा और कायड़ खदान में उच्च अयस्क उपचार और खनन ग्रेड और वसूली में सुधार के कारण 12.3 प्रतिशत की वृद्धि हुई है.

तिमाही के दौरान एकीकृत धातु उत्पादन 209 केटी रहा जो संरचनात्मक ओवरहाल घटकों की रिपेयर्स के लिए चंदेरिया स्मेल्टर में एक रोस्टर में विस्तारित शटडाउन के कारण वित्तीय वर्ष 2021 की दूसरी तिमाही तथा वित्तीय वर्ष 2022 की पहली तिमाही की तुलना में 12 प्रतिशत कम है. तिमाही के दौरान एकीकृत जस्ता उत्पादन 162 केटी एवं एकीकृत सीसा उत्पादन 47केटी तथा एकीकृत चांदी (Silver) का उत्पादन 152 मेट्रीक टन रहा है.

वित्तीय प्रदर्शन
वित्तीय वर्ष की दूसरी तिमाही के दौरान कंपनी ने 6,122 करोड़ रु. का राजस्व अर्जित किया हैजो जस्ता और सीसा की एलएमई कीमतों में वृद्धि और उच्च प्रीमियम के साथ साथ चांदी (Silver) की उच्च कीमतों के कारण आंशिंक रूप से कम धातु और चांदी (Silver) की मात्रा से ऑफसेट था. वर्ष के दौरान, जस्ता और सीसा एलएमई की कीमतों में क्रमशः 28 प्रतिशत और 25 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाता है.

दूसरी तिमाही में कंपनी ने 2,017 करोड़ रु. का शुद्ध लाभ अर्जित किया है जो क्रमिक रूप से 1.7 प्रतिशत और सालाना 4.0 प्रतिशत ऊपर है. वृद्धि मुख्य रूप से धातु कीमतों में सुधार और क्रमिक रूप से कम प्रभावी कर से प्रेरित थी. वित्तीय वर्ष 2022 की छःमाही में 4,000 करोड़ का शुद्ध लाभ रहा है जो सालाना 21 प्रतिशत अधिक है.

आउटलुक

हम वित्त वर्ष 2022 के लिए वॉल्यूम और कैपेक्स पर अपने मार्गदर्शन को दौहराना चाहते है.

वित्त वर्ष 2022 में खनन धातु और फिनिश्चड धातु दोनों का उत्पादन प्रत्येक बण्1025 दृ 1050केटी होने की संभावना है.

वित्तीय वर्ष 2022 में बिक्रीयोग्य चांदी (Silver) का उत्पादन बण्720डज् अनुमानित है.

वित्तीय वर्ष के लिए परियोजना पूंजीगत व्यय लगभग 100 मिलियन डॉलर (Dollar) होने की उम्मीद है.

पिछली तिमाही में प्रबन्धन ने कच्चे माल की कीमतों में बढ़ोतरी से लागत के प्रति जोखिम से आगाह किया था. उसी के संदर्भ में, हम अपने लागत मार्गदर्शन को ऊपर की ओर संशोधित करेंगे.

पर्यावरण प्राधिकरण (म्.) जावर खदानों के विस्तार के लिए 4.8एमटीपीए से 6.5 एमटीपीए तक स्वीकृति प्रदान की है.

चीनी नागरिकों के लिए कडे वीजा दिशानिर्देशों सहित, तिमाही के दौरान कोविड-19 (Covid-19) प्रतिबंध जारी रहे है, जिसके परिणामस्वरूप चंदेरिया में फ्यूमर संयंत्र के चालू होने में देरी हुई. कार्य प्रगति पर हैं और हमें उम्मीद है कि वित्त वर्ष 2022 के अंत तक फ्यूमर की कमीशनिंग पूरी हो जाएगी.

Check Also

आरबीआई की गाइडलाइंस पर गूगल बदलेगा पेमेंट का तरीका

नई दिल्ली (New Delhi) . रिजर्व बैंक (Bank) ऑफ इंडिया की गाइडलाइंस पर गूगल द्वारा …