Sunday , 6 December 2020

प्रवेश लेने से पहले जांच ले इन विवि को, उच्च शिक्षा विभाग ने जारी किया सार्वजनिक पत्र

जयपुर (jaipur) . राजस्थान (Rajasthan) राज्य के पांच निजी यूनिवर्सिटी में छात्र-छात्राओं को सोझसमझकर ही प्रवेश लेना चाहिए. इस आशय का एक सार्वजनिक पत्र जारी ‎किया है राजस्थान (Rajasthan) के उच्च शिक्षा विभाग ने. उच्च शिक्षा विभाग सी संयुक्त सचिव शुचि शर्मा के आदेशों के मुताबिक चूरू की ओपीजेएस यूनिवर्सिटी, झुंझुनूं की जगदीश प्रसाद झाबरमल टीबरेवाल विश्वविद्यालय, सिंघानिया विश्वविद्यालय, धर यूनिवर्सिटी और अलवर की सनराईज यूनिवर्सिटी में प्रवेश लेने से पूर्व छात्र-छात्राओं को पूरी जांच से संतुष्ट होने के बाद ही प्रवेश लेने की सलाह दी गई है. इसके अलावा पत्र में यह भी बताया गया है कि प्रदेश के 51 निजी विश्वविद्यालयों को कैंपस से बाहर स्टेडी सेंटर, ऑफ कैंपस सेंटर, राज्य सरकार (Government) या यूजीसी की अनुमति के खोलने का अधिकार नही है. पत्र के मुताबिक इन सभी पांचों प्राइवेट विश्वविद्यालयों के खिलाफ गंभीर शिकायतें और अनियमितताओं की जांच विचाराधीन है या मामले अदालत में विचाराधीन है.