Saturday , 19 June 2021

होली पर कोरोना से सुरक्षा के लिए घर पर बन रहे हर्बल रंग और पकवान

जबलपुर, 27 मार्च . होली का त्योहार बस आने को ही है. एक बार फिर बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के कारण होली के उत्सव पर कुछ पाबंदियां लग सकती हैं और होली का रंग फीका पड़ सकता है. फिर भी युवा और बच्चों ने घर परिवार के बीच ही अपनी होली खेलने की तैयारी कर ली है. लेकिन कोरोना संक्रमण के डर के कारण बच्चे व युवा भी अपनी सुरक्षा को लेकर काफी सतर्क हैं. होली खेलना तो चाहते हैं कि लेकिन इसके लिए हर्बल रंगों को घर पर ही बनाने की तैयारी चल रही है. वहीं गृहणी मधु विनोदिया ने भी अपने घर में मार्केट से कोई मिठाई व नाश्ता लाने के लिए मना कर दिया है. वे घर पर ही पकवान बनाकर होली का उत्सव मनाने वाली हैं. सिर्फ यही नहीं शहर में अधिकांश घरों में कुछ ऐसा ही माहौल नजर आ रहा है.

घर पर ही खेलेंगे होली……………

बारहवीं क्लास की छात्रा अमोली दुबे ने बताया कि उनका संयुक्त परिवार है और घर में करीब नौ बच्चे हैं. हम सभी लोग अपने ही घर पर रहकर होली खेलेंगे. बाहर नहीं जाएंगे. इसके लिए हम लोगों ने एक सप्ताह पहले से ही रंगों को घर पर ही बनाने की शुरुआत कर दी है. मार्केट से रंग व गुलाल लाना इस समय असुरक्षित है. हमारे पेरेन्ट्स ने भी मार्केट से रंग लाने के लिए मना किया है. इस बार होली पूरे देसी व पारंपरिक अंदाज में मनाने वाले हैं.

त्वचा व बालों के लिए भी अच्छे हर्बल रंग………..

सौंदर्य विशेषज्ञ श्रेया गुप्ता ने बताया कि होली खेलने के लिए मार्केट में मिलने वाले रंग त्वचा व बालों के लिए अच्छे नहीं होते. इनके साइड इफेक्ट हो सकते हैं. इसलिए बेहतर है कि घर पर ही हर्बल रंगों को बनाकर होली खेलें. होली खेलने के लिए हल्दी, चुकंदर, बेसन, गुलाब, टेसु, केसर जैसी वस्तुओं से होली के लिए रंग बनाए जा सकते हैं. इनसे त्वचा पर कोई साइड इफेक्ट नहीं होते.

Please share this news