Thursday , 29 July 2021

मनचले की छेडछाड से परेशान होकर ग्यारवी की छात्रा ने फांसी लगाकर दे दी जान

भोपाल (Bhopal) . राजधानी के मिसरोद थाना इलाके मे मनचले की छेड़छाड़ से परेशान होकर 11वीं की छात्रा द्वारा फांसी लगाकर खुदकुशी किये जाने की सनसनीखेज घटना प्रकाश मे आई है. जानकारी के अनुसार मृतका 16 साल की नाबालिग किशोरी ने सुसाइड नोट में कॉलोनी के ही एक लड़के का नाम लिखा है. आरोपी किशोर 12वीं कक्षा में पढ़ता है, और छात्रा का सीनियर है. स्कूल आते-जाते समय वह छात्रा को रोककर छेड़छाड़ करता था. पुलिस (Police) ने सुसाइड नोट और परिजनों के बयान के आधार पर आरोपी संदीप को गिरफ्तार कर लिया है.

निशातपुरा पुलिस (Police) ने जानकारी देते हुए बताया कि बीती रात छात्रा ने घर में फांसी लगा ली. हादसे की जानकारी लगते ही परिजन उसे फंदे से उतारकर तुंरत ही पीपुल्स अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों (Doctors) ने उसे शुरुआती चेकअप के बाद ही मृत घोषित कर दिया. अस्पताल से मिली सुचना पर पहुची पुलिस (Police) ने शव बरामद कर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. अगले दिन शव का पीएम कराने के बाद छात्रा का शव परिजनों को सौंप दिया गया. शुरुआती जॉच मे पुलिस (Police) को मौके से एक सुसाइड नोट मिला है. इसमें छात्रा ने लिखा है, कि वह मोहल्ले में ही रहने वाले 18 वर्षीय संदीप के कारण जान दे रही है. इसी आधार पर पुलिस (Police) ने आरोपी संदीप को हिरासत में लेकर उसके खिलाफ आत्महत्या (Murder) के लिए उकसाने और छेड़छाड़ समेत अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज कर लिया.

पुलिस (Police) ने बताया कि छात्रा के पिता सरकारी कर्मचारी हैं. परिवार वालो ने पुलिस (Police) को बताया कि सोमवार (Monday) रात परिजन घर पर ही थे. तभी गुस्से में घर पहुंची किशोरी ने अपने कमरे में जाकर अंदर से दरवाजा बंद कर लिया. परिजन दरवाजा खटखटाते रहे, लेकिन उसने दरवाजा नहीं खोला. इससे पहले कि वे किसी तहर अंदर पहुंचते, किशोरी फांसी लगा चुकी थी. जैसे-तैसे परिजन उसे फंदे से उतारकर अस्पताल ले गए, लेकिन डॉक्टरों (Doctors) ने प्रारंभिक जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया. पुलिस (Police) के अनुसार आरोपी संदीप की उम्र 18 साल से थोड़ी अधिक है. संदीप 12वीं क्लास में पढ़ता है. उसके पिता मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण करते हैं. फिलहाल पुलिस (Police) मामले की आगे की जांच कर रही है.

Please share this news