Monday , 10 May 2021

ग्वालियर कोरोना पस्त, तभी हम होंगे मस्त: मास्क ही वैक्सीन है-एन.एस.एस.

ग्वालियर (Gwalior) 1 जनवरी से महाविद्यालय प्रारंभ छात्रों के लिए किया गया जिसमें मास्क वितरण सबसे अहम है. कोरोना वैक्सीन लगने से पहले व बाद भी ‘‘मास्क ही वैक्सीन है’’ जिसके लिए वर्ष 2021 के पहले दिन महाविद्यालय में मास्क वितरण का कार्यक्रम आयोजित किया गया. यह कार्यक्रम वरिष्ठ कार्यक्रम अधिकारी डॉ. संजय कुमार पाण्डेय राष्ट्रीय सेवा योजना माधव महाविद्यालय, ग्वालियर (Gwalior) के नेतृत्व में स्वस्थ जीवन के लिये कोविड-19 (Covid-19) के समय मास्क लगाना हमारी आवश्यकता थी जिसे हम आगे भी कुछ समय लगाये रखें जिससे स्वस्थ शरीर की परिकल्पना की जा सके. माधव महाविद्यालय ग्वालियर (Gwalior) की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई द्वारा महाविद्यालय के बाहर सड़क पर चलते हुये आमजन को मास्क वितरण कर इसे 2021 में भी लगाये रखने का आग्रह किया गया. इस कार्यक्रम में राहुल त्रिपाठी शाखा प्रबंधक बैंक (Bank) ऑफ महाराष्ट्र, मुकेश अग्रवाल उप प्रबंधक, जिला संगठक रासेयो डॉ. मनोज अवस्थी, प्राध्यापक डॉ. नीलेन्द्र सिंह तोमर व वरिष्ठ कार्यक्रम अधिकारी डॉ. संजय कुमार पाण्डेय राष्ट्रीय सेवा योजना माधव महाविद्यालय, ग्वालियर (Gwalior) उपस्थित थे.

कोविड-19 (Covid-19) के समय 2020 के दौरान का समय जागरूकता का रहा. जिसके बाद इस संकट की वैक्सीन आ रही है वह अच्छा है, परन्तु उसके उपरांत भी मास्क जरूर लगाये जब तक कोरोना संक्रमण पूर्ण रूप से समाप्त नहीं हो जाता. ब्रिटेन स्ट्रेन कोविड दुबारा आने के बाद हम सबको सतर्कता रखना चाहिए जिससे यह संक्रमण ना फैल सके. हमारे आदरणीय प्रधानमंत्री जी ने कहा कि ‘‘दवाई भी और कड़ाई भी’’ इस वाक्य को ध्यान में रखते हुये वर्ष 2021 में कोरोना को पस्त करना है.

कोरोना पस्त तभी हम सभी लोग मस्त होंगे, क्योंकि स्वस्थ जीवन के लिये जागरूकता आवश्यक है जिसके लिए मास्क अनिवार्य रूप से लगाये. मास्क के द्वारा संक्रमण काफी हद तक फैलने से थम जाता है जो हम सब लोगों के लिये आवश्यक है.कार्यक्रम में अंकुर चैरसिया, तरूण रोहिरा, अनिरूद्ध शर्मा, अंकुश अरोरा, लितेश कटारे, आदित्य आठले, यथ किरार, करण बरूआ, योगेश्वर माहौर, हार्दिक खलाटे, अजय राजौरिया आदि लोग उपस्थित थे.

Please share this news