गुजरात: ‘आर्थिक परेशानी’ के कारण एक व्यापारी परिवार के सात लोगों ने की आत्महत्या

सूरत, 28 अक्टूबर . सूरत में शनिवार को एक चौंकाने वाली घटना में एक व्‍यापारी के परिवार के तीन बच्चों सहित सात सदस्यों ने अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली.

मौके पर पहुंची पुलिस को घटनास्थल पर एक सुसाइड नोट मिला, जिसमें संकटपूर्ण परिस्थितियों की बात कही गई है.

पीड़ितों में परिवार का मुखिया फर्नीचर व्यवसायी मनीष सोलंकी भी शामिल है. उन्हें छत के पंखे से लटका पाया गया. उनके साथ उनकी पत्नी रीता, पिता कनु, मां शोभा और तीन छोटे बच्चों – दिशा, काव्या और कुशल ने भी अपनी जीवन लीला समाप्‍त कर ली.

रिपोर्टों से पता चलता है कि उन्‍होंने गंभीर आर्थिक तंगी के कारण यह कदम उठाया है, हालांकि सटीक कारण की जांच की जा रही है.

दिल दहला देने वाली घटना के बारे में बताते हुए सूरत में पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) राकेश बारोट ने कहा, “एक परिवार के सात सदस्यों ने आत्महत्या कर ली है. उन्होंने एक सुसाइड नोट लिखा है, और हम कारण की पुष्टि कर रहे हैं.”

आत्‍महत्‍या की घटनाओं का पता तब चला जब स्थानीय निवासी आज सुबह मनीष सोलंकी से संपर्क नहीं होने पर चिंतित हो गए. इलाके के निवासियों के अनुसार, सोलंकी ने लगभग 35 बढ़ई और मजदूरों को काम पर रखा था. वह काफी समय से वित्तीय कठिनाइयों का सामना कर रहे थे. मजदूरों ने उनसे संपर्क करने का प्रयास किया लेकिन कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली. घर पहुंचकर दरवाजा खटखटाने पर भी कोई जवाब नहीं मिला.

चिंतित पड़ोसियों ने घर के पीछे की खिड़की को तोड़कर अंदर प्रवेश किया.

हालांकि पुलिस ने अभी तक सुसाइड नोट के विशिष्ट विवरण का खुलासा नहीं किया है, लेकिन कथित तौर पर परिवार के हताशापूर्ण कदम में योगदान देने वाले कारक के रूप में वित्तीय संकट का हवाला दिया गया है.

हालाँकि, नोट में किसी विशेष व्यक्ति का उल्‍लेख नहीं किया गया है. इस घटना के मद्देनजर, घटनास्थल पर पहुंचे परिवार के रिश्तेदारों ने मीडिया से दूरी बनाए रखी.

एकेजे

Check Also

बिहार में शराब पीने के आरोप में बंद शख्स की हवालात में मौत

मुंगेर, 8 दिसंबर . बिहार में शराब पीने के आरोप में गिरफ्तार एक युवक की …