Friday , 14 May 2021

आदर्श क्रेडिट सोसायटी से 19 कराेड़ रुपए की GST वसूली

जयपुर. केंद्रीय वस्तु एवं सेवाकर विभाग उदयपुर (Udaipur) की एंटी इवेजन शाखा ने आदर्श क्रेडिट को-आॅपरेटिव सोसायटी द्वारा नियम विरुद्ध लिए 36 करोड़ 8 लाख इनपुट टैक्स क्रेडिट में से 19 करोड़ 6 लाख रुपए की जीएसटी की रिकवरी की है.

विभाग के आयुक्त ने बताया कि एंटी इवेजन शाखा बड़े करदाताओं के रिटर्न्स और उनके द्वारा काम ली इनपुट टैक्स क्रेडिट को डाटा माइनिंग और टैक्स पेयर्स द्वारा फाइल जीएसटी रिटर्न्स की जांच कर रही थी. आदर्श सोसायटी द्वारा नियम विरुद्ध 36 करोड़ 8 लाख इनपुट टैक्स क्रेडिट का उपयोग सामने आया. निरीक्षण में सामने आया कि सोसायटी से अयोग्य इनपुट पर जो क्रेडिट ले लिया गया था, वह एक्ट के तहत अनुमत नहीं था. सोसायटी से टैक्सेबल और एग्जेम्प्ट सर्विसेज प्रोवाइड की जाती थी, जिस पर उपलब्ध इनपुट टैक्स क्रेडिट का उपयोग अनुपात तरीके से किया जाना था और शेष इनपुट टैक्स क्रेडिट को नियमानुसार फाइनेंशियल रिटर्न में रिवर्स किया जाना था.

सोसाइटी ने ऐसा नहीं किया गया. सोसायटी ने 29 नवंबर, 2019 से लिक्विडेशन प्रक्रिया के तहत सरकार से लिक्विडेटर नियुक्त किया. लिक्विडेटर ने सोसायटी के सभी पूर्व संबंधित कर्मचारियों से बात की आैर टैक्स कंसल्टेंट से चर्चा कर इस बात पर सहमति जताई कि इनपुट टैक्स क्रेडिट को रिवर्स किया जाना है. इसके बाद 19 करोड़ 6 लाख रुपए की क्रेडिट के रिवर्सल के लिए सहमत हुए. यह राशि गत 27 अप्रैल को रिवर्स कर दी गई, जबकि शेष के लिए प्रयास किए जा रहे हैं.

Please share this news