Wednesday , 23 June 2021

कोविड प्रभावित राज्यों से आने वाले यात्रियों को टेस्ट कराना जरुरी, सरकार ने दिए निर्देश

लखनऊ (Lucknow) (ईएमस). उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में बढ़ते कोरोन वायरस के प्रकोप को लेकर नई गाइडलाइंस जारी की गई हैं. राज्य के मुख्य सचिव आरके तिवारी ने कोरोना को लेकर सभी जिलाधिकारियों, मंडलायुक्तों और सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को पत्र लिखकर निर्देश दिए हैं.

उन्होंनो कहा ‎कि कोविड से ज़्यादा प्रभावित राज्यों से हवाई मार्ग और रेलवे (Railway)स्टेशन पर आने वाले यात्रियों (Passengers) का एयरपोर्ट पर ही एंटीजन टेस्टिंग की व्यवस्था हो और लक्षण मिलने पर आरटीपीसीआर जांच के लिए नमूने भेजे जाएं. इसके अलावा दस्तक अभियान के तहत घर-घर जाकर टेस्टिंग के कार्य कर रहे फ्रंटलाइन वर्कर से प्रतिदिन ऐसे क्षेत्र के विषय में जानकारी ली जाए, जहां देश के अलग-अलग राज्यों के लोग बड़ी संख्या में हाल के दिनो में ही आये हैं. भीड़भाड़ वाले स्थानों पर सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क समेत कोविड के प्रोटोकोल का सख़्ती से पालन कराएं. राज्य सरकार (State government) ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए बड़ा फैसला लिया है. साथ ही प्रशासन ने गाजियाबाद (Ghaziabad) में 10 मई तक धारा 144 लागू कर दी है.

प्रशासन ने कहा ‎कि त्योहारों और परीक्षाओं के बीच कोरोना से बचाव के लिहाज से ये फैसला लिया गया है. आदेश के मुताबिक, होटल, रेस्टोरेंट, स्कूल जैसे सार्वजनिक जगहों पर मास्क के बिना एंट्री नहीं मिलेगी. साथ ही थियेटर, मॉल, स्कूल और कॉलेज जैसे जगहों पर कोरोना के लक्ष्ण वालों लोगों को सख्त तौर पर प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा. इसके साथ ही सभी दुकानदारों को मास्क और ग्बल्स का इस्तेमाल करना होगा. मास्क नहीं लगाने वाले खरीददार को बिक्री नहीं की जाएगी.

 

Please share this news