Thursday , 25 February 2021

राजस्थान में पुजारी को जिंदा जलाने की मामले ने पकड़ा तूल, गहलोत ने कहा दोषियों को सजा मिलेगी


पूर्व सीएम ने कहा, प्रदेश में अपराधियों से पुलिस (Police) का भय खत्म हो गया

जयपुर (jaipur) . राजस्थान (Rajasthan) के करौली जिले के सपोटरा में पुजारी को जिंदा जलाकर मार डालने का मामला गरमा गया है. एक ओर जहां पीडित परिवार के पक्ष में ब्राह्मण समाज से जुड़े संगठन विभिन्न मांगों को लेकर अड गए है. वहीं पूर्व सीएम वसुंधरा राजे और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने भी गहलोत सरकार (Government) को आड़े हाथों लिया है.सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने ट्वीट कर कहा है कि घटना अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण एवं निंदनीय है. दोषियों को बख्शा नहीं जायेगा.सपोटरा थाना इलाके के बूकना गांव में राधा गोपाल जी मंदिर की पूजा अर्चना करने वाले पुजारी बाबूलाल वैष्णव की गुरुवार (Thursday) को जयपुर (jaipur) के एसएमएस अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी.आरोप है कि उनकी जमीन पर कुछ लोगों ने कब्जा करने की नीयत से पहले विवाद किया और बाद में पेट्रोल (Petrol) छिड़क कर जिंदा जला दिया.मामले के सामने आने के बाद प्रदेशभर में लोग तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे हैं.

शुक्रवार (Friday) को सुबह से ही मामला तूल पकड़ने लग गया और परिजनों ने शव लेने से इनकार कर दिया. अस्पताल की मोर्चरी पर बड़ी संख्या में ब्राह्मण संगठनों से जुड़े लोगों ने पुलिस (Police) के समक्ष संबंधित एसएचओ के खिलाफ कार्रवाई करने, मामले की उच्च स्तरीय जांच कराने और परिजनों को मुआवजा देने की मांग रखी है.मामले को बढ़ता देख पुलिस (Police) ने संबंधित एसएचओ के खिलाफ अगले 24 घंटों में कार्रवाई करने, मामले की जांच पुलिस (Police) उपाधीक्षक स्तर के अधिकारी से करवाने, मुआवजे का प्रस्ताव उच्च स्तर पर भेजने और आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया है.एडिशनल पुलिस (Police) कमिश्नर राहुल प्रकाश ने कहा कि परिजनों को उनकी मांगों को लेकर आश्वस्त किया गया है. जल्द ही कार्रवाई की जाएगी.

दूसरी तरफ पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने कांग्रेस सरकार (Government) को आड़े हाथों लिया है.वहीं बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने भी कहा कि प्रदेश में अपराधियों में कानून का भय समाप्त हो गया है.राजे ने ट्वीट कर कहा कि इस घटना की जितनी निंदा की जाए कम है.प्रदेश में अपराध का ग्राफ जिस गति से बढ़ रहा है उससे स्पष्ट है यहां महिलाएं, बच्चे, बूढ़े, दलित और व्यापारी कोई भी सुरक्षित नहीं हैं. कांग्रेस सरकार (Government) को गहरी नींद त्यागकर, दोषियों को सजा दिलाकर परिजनों को तुरंत न्याय दिलाना चाहिए.

वहीं सीएम गहलोत ने पुजारी को जिंदा जलाने के मामले में ट्वीट कर कहा कि सपोटरा, करौली में बाबूलाल वैष्णव जी की हत्या (Murder) अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण एवं निंदनीय है.सभ्य समाज में इसतरह के कृत्य का कोई स्थान नहीं है.प्रदेश सरकार (Government) इस दुखद समय में शोकाकुल परिजनों के साथ है.घटना के प्रमुख आरोपी को गिरफ्तार कर कार्रवाई जारी है.दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा. मामले में केंद्रीय जल संसाधन मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने ट्वीट कर कहा,करौली में एक मंदिर के पुजारी को जिंदा जला देना राजस्थान (Rajasthan) की दुर्दशा का हाल बता रहा है. अशोक जी राजस्थान (Rajasthan) को बंगाल बनाना चाहते हैं या राज्य जिहादियों को सौंप दिया है या इसका भी ठीकरा अपने राजकुमार की तरह मोदी जी या योगी जी पर फोड़ोगे?’

Please share this news