Thursday , 15 April 2021

पश्चिम बंगाल- धनखड़ से भेंट कर गांगुली, बोले- राज्यपाल की इच्छा हो तो मुलाकात करनी पड़ती है


नई दिल्ली (New Delhi) . पश्चिम बंगाल (West Bengal) के सियासी संग्राम में अब अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) से पहले बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली की राज्यपाल से मुलाकात के बाद तूफानी हलचल बढ़ गई है. कई तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं. बीते दिन सौरव गांगुली ने कोलकाता (Kolkata) में राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मुलाकात की.

अब सोमवार (Monday) को जब सौरव से उनके राजनीति में आने की अटकलों पर सवाल हुआ, तो उन्होंने कहा कि अगर राज्यपाल आपसे मिलना चाहते हैं तो आपको मिलना होता है. आपको बता दें कि सौरव गांगुली को लेकर लंबे वक्त से कयास लगाया जा रहा है कि वो भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो सकते हैं. हालांकि, सौरव की ओर से हर बार इस सवाल को टाला गया है. ऐसे में बंगाल में जारी राजनीतिक हलचल के बीच जब बीते दिन उन्होंने राज्यपाल से मुलाकात की, तो फिर से अटकलें होने लगीं. लेकिन सौरव गांगुली का कहना है कि राज्यपाल ने उन्हें मिलने के लिए बुलाया था, इसे यहां तक ही सीमित रखें.

रविवार (Sunday) को सौरव गांगुली ने बंगाल के राज्यपाल से मुलाकात की, तो सोमवार (Monday) को दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा नेता अमित शाह के साथ एक मंच पर दिखे. दिल्ली के कोटला मैदान में पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली की मूर्ति का अनावरण किया गया है, जहां अमित शाह, सौरव गांगुली एक साथ दिखे. पश्चिम बंगाल (West Bengal) में मई 2021 के आसपास चुनाव होना है. ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि भारतीय जनता पार्टी सौरव गांगुली को बंगाल में अपना मुख्यमंत्री (Chief Minister) पद का चेहरा लगा सकती है. हालांकि, ना ही सौरव गांगुली ने और ना ही बीजेपी ने इस बात की पुष्टि की है.

Please share this news