Thursday , 6 August 2020
[देखने का भविष्य] ② HDR10 +, QLED 8K पर उच्च रिजॉल्यूशन वाले ब्यौरों के पीछे का रहस्य

[देखने का भविष्य] ② HDR10 +, QLED 8K पर उच्च रिजॉल्यूशन वाले ब्यौरों के पीछे का रहस्य

(बाएं से दाएं) यंगवुक सॉन, गुइवॉन सिओ, मार्टिन जुनसियोब किम, बियोमजून सिओ और सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स के विजुअल डिस्प्ले बिजनेस की पिक्चर क्वालिटी सॉल्यूशन लैब के सियोनसियोक किम

 

सैमसंग के 2020 QLED 8K टीवी की पूरी तरह से इमर्सिव पिक्चर क्वालिटी बनाने के लिए कई तरह की तकनीकें एक साथ आईं.  2020 QLED 8K टीवी उपयोगकर्ताओं को टीवी उद्योग का सबसे अच्छा रिजॉल्यूशन प्रदान करता है जिसका श्रेय 100% कलर वॉल्यूम को है, जो स्क्रीन के अनुभव को स्वाभाविक बनाने के लिए स्क्रीन पर लगभग 1 अरब अलग-अलग रंगों को फिर से बना सकता है, एंटी-रिफ्लेक्शन 2.0 तकनीक को है, जो स्क्रीन की गुणवत्ता पर चमकदार प्रकाश की स्थिति में उसके असर को समाप्त करती है और एआई अपस्केलिंग तकनीक को है, जो कम-रिजॉल्यूशन वाले कंटेंट की गुणवत्ता को बढ़ाकर 8K में बदल देती है.

 

सैमसंग के 2020 QLED 8K टीवी में HDR (हाई डायनेमिक रेंज) 10+ फीचर भी है, जो कि HDR10 का एक उन्नत संस्करण है, जो डिस्प्ले पर प्रत्येक दृश्य के ब्लैक लेवल और पीक ब्राइटनेस के बीच के कंट्रास्ट को अधिकतम करने के लिए गतिशील मेटाडेटा का उपयोग करता है.  HDR10 + प्रत्येक दृश्य के लिए ब्राइटनेस और कंट्रास्ट को इष्टतम बनाकर उपयोगकर्ताओं को सर्वश्रेष्ठ डिस्प्ले अनुभव प्रदान करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है.  उपयोगकर्ताओं के देखने के अनुभव में नवीनता लाने के साथ-साथ सैमसंग का HDR10 + घरेलू मनोरंजन उद्योग में बड़े पैमाने पर नए मानक भी स्थापित कर रहा है.

 

सैमसंग न्यूजरूम ने एक नए दौर की शुरुआत करने वाले HDR10 + तकनीक के बारे में अधिक जानने के लिए सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स के विज़ुअल डिस्प्ले बिजनेस की पिक्चर क्वालिटी सॉल्यूशन लैब में डेवलपर्स का साक्षात्कार किया और समझा कि कैसे यह QLED 8K के छिपे विवरणों को सामने लाता है.

 

 

(बाएं से दाएं) यंगवुक सॉन, गुइवॉन सिओ, मार्टिन जुनसियोब किम, बियोमजून सिओ और सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स के विजुअल डिस्प्ले बिजनेस की पिक्चर क्वालिटी सॉल्यूशन लैब के सियोनसियोक किम

 

स्पष्ट विवरण के साथ डिस्प्ले की जीवंतता में बढ़ोतरी

 

2017 में सैमसंग ने दर्शकों के टीवी देखने के अनुभव को और जीवंत बनाने के लिए HDR10+ तकनीक को पेश किया.  HDR10 + अल्ट्रा-हाई-रिजॉल्यूशन वीडियो में एक प्रमुख तत्व बन गया क्योंकि इसके कंट्रास्ट और रंगों का दायरा बहुत विस्तृत है.  “पूर्व में हमने एसडीआर (स्टैंडर्ड डायनेमिक रेंज) मानक का पालन किया था जिसमें चमक स्तर 100 निट्स से कम और रंगों का समुदाय बहुत संकीर्ण है,” सियोनसियोक किम ने कहा.  “लेकिन जब एचडीआर 10 पेश किया गया था, तो इसकी उच्च चमक के स्तर और 1,000 निट्स से अधिक के व्यापक रंग सरगम ​​के साथ हम उपयोगकर्ताओं को ब्राइटनेस और कलर की वह रेंज पेश करने में सक्षम हुए जिसकी पहले कल्पना भी नहीं की जा सकती थी.”

 

प्रत्येक कंटेंट निर्माता अलग-अलग एन्कोडिंग विधियों, ब्राइटनेस और कलर सेटिंग्स के साथ कंटेंट प्रदान करता है.  परिणामी चित्रों की गुणवत्ता जिसे दर्शक देखते हैं, एचडीआर प्रौद्योगिकियों द्वारा किए गए विश्लेषण के तरीकों के आधार पर भिन्न हो सकती है.  HDR10 + सबसे अलग है क्योंकि यह फ़ाइल की प्रोसेसिंग करते समय वीडियो को ‘दृश्यों’ में तोड़ देता है.  “पिछली तकनीक HDR10 एक संपूर्ण वीडियो पर एकल कंट्रास्ट रेंज कर्व को लागू करती थी, लेकिन HDR10 + जहां भी उचित हो, वहीं विभिन्न कॉन्ट्रास्ट रेंज कर्व को लागू करने के लिए दृश्य द्वारा औसत ब्राइटनेस, अधिकतम ब्राइटनेस और संचित आंकड़े के वितरण का विश्लेषण करती है,” बियोमजून किम ने बताया.

 

उदाहरण के लिए, सूर्य की रोशनी से पूरी तरह प्रकाशमान आकाश में उड़ते हुए एक हवाई जहाज सहित किसी दृश्य को यदि चित्रित किया जाता है, तो कंट्रास्ट रेंज निश्चित तौर पर महत्वपूर्ण है, लेकिन साथ ही दृश्य का ग्रेडेशन भी अहम है – ग्रेडेशन बदलाव के अलग-अलग चरण हैं जब शॉट प्रकाश और अंधेरे के बीच चलता है.  जब ग्रेडेशन खराब तरीके से निष्पादित किया जाता है, तो किसी दृश्य में वस्तु के चारों ओर का संकेत बाधित हो सकता है, जिसका अर्थ है कि ब्यौरा या तो धुंधला हो गया है या शॉट के बाहर चला गया है.  “इस तरह के दृश्य का एक अच्छा ग्रेडेशन दर्शकों को आकाश और बादलों के साथ-साथ हवाई जहाज की सटीक तस्वीर पेश करेगा,” गुइवॉन सिओ ने कहा.  “इसे सफलतापूर्वक हासिल करने के लिए एक वीडियो में मौजूद सभी विशेषताओं का सफलतापूर्वक विश्लेषण करने की आवश्यकता है. यदि ग्रेडेशन संकेतों के वितरण की मात्रा बहुत ज्यादा है, तो हमारी तकनीक HDR कर्व को अपने-आप समायोजित कर लेगी ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि ये संकेत अन्य ग्रेडेशन फीचर्स के साथ मिश्रित नहीं हो रहे हैं.”

 

 

दाईं ओर की तस्वीर में दृश्य के सभी विवरणों, और यहां तक कि पृष्ठभूमि के बादलों को बाहर लाने के लिए भी, ग्रेडेशन को अच्छी तरह उपयोग किया गया है

सभी प्रकार के डिस्प्ले के लिए एल्गोरिदम का विकास करना

 

एक ही वीडियो को देखने पर दर्शक अलग-अलग पिक्चर क्वालिटी का अनुभव कर सकते हैं, जो कि इस बात पर निर्भर है कि उनके डिस्प्ले में कितना ब्राइटनेस है. ‘एचडीआर टेक्नोलॉजी को विकसित करने में सबसे मुश्किल काम क्या है’ – यह सवाल करने पर मार्टिन जुनसियोब किम ने जवाब दिया कि यह सुनिश्चित करना कि अलग-अलग ब्राइटनेस सेटिंग्स वाले विभिन्न टीवी उत्पाद एक समान डिस्प्ले अनुभव प्रदान कर सकें.

 

विभिन्न ब्राइटनेस सेटिंग्स वाले टीवी पर एक ही विश्लेषण की गई वीडियो विशेषताओं के साथ वीडियो के डिस्प्ले प्रभाव को अधिकतम करना कोई छोटा काम नहीं है. फिर भी, पिक्चर क्वालिटी सॉल्यूशन लैब के डेवलपर्स ने एक प्रॉपराइटरी एडैप्टेबल एचडीआर प्रोसेसिंग एल्गोरिथ्म विकसित कर इस चुनौती को पार करने में सफलता पाई. इस प्रक्रिया में अनेक परिचर्चाएं हुईं और कई बार परीक्षण करते हुए हुई गलतियों को सुधार-सुधार कर अंतिम सफलता प्राप्त की गई.

 

सहयोग से विकास हुआ

 

उच्च गुणवत्ता वाले ब्यौरों के साथ कंटेंट का आनंद लेने के लिए दर्शकों को केवल एक अच्छी गुणवत्ता वाले टीवी से कहीं ज्यादा की आवश्यकता होती है.  सैमसंग का मानना है कि टीवी देखने के अनुभव को सबसे अधिक इमर्सिव बनाने के लिए कंटेंट तैयार करने वालों और उनका प्रसारण करने वाली सेवाओं सहित बड़े पैमाने पर उभर रहे होम एंटरटेनमेंट मार्केट के साथ सहयोग आवश्यक है.  यही कारण है कि सैमसंग HDR10 + के लिए उद्योग-व्यापी मानक विनिर्देश स्थापित करने पर ध्यान केंद्रित कर रही है.

 

“सैमसंग ने 20th सेंचुरी फॉक्स और पैनासोनिक कॉर्पोरेशन के साथ एचडीआर 10 + टेक्नोलॉजीज, एलएलसी की स्थापना की, और जनवरी 2020 तक इसमें 94 कंपनियां शामिल हो चुकी हैं,” यंगवुक सॉन ने समझाया.  “हम HDR10 + टेक्नोलॉजीज, एलएलसी में, सत्यापन लोगो और उपयोगकर्ता गाइड के साथ प्रौद्योगिकी और संबंधित परीक्षणों पर मुफ्त विनिर्देश विवरण देते हैं.  यह हमें अधिक उपयोगकर्ताओं तक अधिक यथार्थवादी और समृद्ध रंगीन वीडियो तस्वीरें पहुंचाने में मदद करता है.  हम अपनी प्रत्येक सदस्य कंपनियों से मिली प्रतिक्रिया के आधार पर हमारे HDR10 + विनिर्देशन को बेहतर बनाने के लिए तैयार हैं.”

 

उच्च गुणवत्ता वाले टीवी डिस्प्ले का उत्पादन करने के लिए, सैमसंग के पिक्चर क्वालिटी सॉल्यूशन लैब डेवलपर्स उपयोगकर्ताओं तक यथार्थवादी वीडियो अनुभव पहुंचाने के लिए लगातार कड़ी मेहनत कर रहे हैं;  वे पहले से ही मौजूदा टेक्नोलॉजी में सुधार के जरिए बेहतर टेक्नोलॉजी विकसित करने की राह पर हैं. सॉन ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा, “हमारा लक्ष्य अगली पीढ़ी के डिस्प्ले के लिए सर्वोत्तम संभव एचडीआर गुणवत्ता बनाकर ऐसे दृश्य अनुभवों को हासिल करना है, जिनके बारे में पहले कल्पना तक नहीं हो सकती थी.”