Wednesday , 14 April 2021

निर्माण कार्यों के भुगतान नहीं होने पर निगम के कांग्रेसी ठेकेदारों और नगरीय निकाय मंत्री के बीच तीखी नोकझोक

बिलासपुर (Bilaspur) (ईएएमएस). कल रविवार (Sunday) को नगरीय निकाय मंत्री डॉक्टर (doctor) शिव कुमार डहरिया के साथ नगर निगम के कांग्रेसी ठेकेदार की लंबे समय से लंबित भुगतान को लेकर तीखी नोकझोंक हो गई.जिला कांग्रेस अध्यक्ष विजय केसरवानी ने ठेकेदारों को समझाइश देकर मामले को शांत किया. मंत्री ने ठेकेदारों से बकाया सूची की मांग की जिस पर ठेकेदारों ने उनसे कहा कि आप स्वयं निगम से मंगवा लीजिए पिछले तीन बार से बकाया राशि के भुगतान को लेकर हमने आपको मिलकर सूचित किया है मगर भुगतान नहीं हो पा रहा है.मंत्री डहरिया ने फोन कर नगर निगम से ठेकेदारों की बकाया सूची को तुरंत मंगवाया और ठेकेदारों को आश्वस्त किया कि परीक्षण के बाद भुगतान जल्द कराया जाएगा.

उल्लेखनीय है कि नगर निगम में दर्जनों ठेकेदार कांग्रेसी हैं और उन्होंने नगर निगम अंतर्गत तिफरा सिरगिट्टी व सकरी नगर पंचायत में निर्माण कार्य किए हैं जिसका भुगतान होता उसके पहले ही तिफरा नगर पालिका सिरगिट्टी व सकरी नगर पंचायत को नगर निगम बिलासपुर (Bilaspur) में शामिल कर लिया गया साथ ही इन तीनों नगरीय निकायों की राशि भी नगर निगम में बिलासपुर (Bilaspur) में समायोजित कर दिया गया उसके बाद ठेकेदारों का बकाया राशि का भुगतान होने में विलंब हो रहा है.बकाया राशि के भुगतान को लेकर तमाम ठेकेदा रो ने आज नगरीय निकाय मंत्री डॉक्टर (doctor) डहरिया से मुलाकात की और शिकायत की कि इसके पहले भाजपा शासनकाल के दौरान भुगतान को लेकर कभी समस्या नहीं आई मगर राज्य में हमारी पार्टी की सरकार आने के बाद तमाम ठेकेदार भुगतान न होने के कारण अपने घरों से पैसा लगाकर काम कर रहे हैं मगर भुगतान लंबित होने की स्थिति में उनके पास भी पैसे नहीं है यहां तक की मजदूरों को देने के लिए भी पैसों का अभाव है. ठेकेदारों के सामने आर्थिक संकट गहरा गया है अगर अब भुगतान में विलंब होता है तो सारे ठेकेदार अपनी ही पार्टी व सरकार की खिलाफ आंदोलन करने को बाध्य होंगे. ठेकेदारों की इस रूख को देखते हुए नगरीय निकाय मंत्री ने पहले तो ठेकेदारों को टालने और उनसे नहीं मिलने की कोशिश की तथा शौचालय में चले गए मगर ठेकेदार भी उनसे मिले बगैर नहीं जाने को लेकर पड़े रहे अंतत: नगरीय निकाय मंत्री ने ठेकेदारों को बुलाया और उनसे चर्चा की इस दौरान मंत्री और ठेकेदारों के बीच तीखी बहस और नोकझोंक भी हुई.

इस दौरान वहां मौजूद जिला कांग्रेस अध्यक्ष विजय केसरवानी व अन्य कांग्रेसी नेताओं ने स्थिति को संभालते हुए ठेकेदारों को शांत किया मंत्री ने ठेकेदारों से ही पूछ बैठे कि किस-किस ठेकेदारों की कौन-कौन से काम की कितनी बकाया राशि है और कब से है इसकी पूरी सूची आप लोग मुझे दीजिए ठेकेदारों ने मंत्री से कहा कि हमने बकाया राशि की भुगतान के लिए आपसे तीन बार मुलाकात कर चुके हैं और निवेदन कर चुके हैं इसके बाद भी स्थिति जस की तस है इसलिए आप नगर निगम के अधिकारी को तत्काल फोन करिए और उनसे सूची मंगवाए. मंत्री ने नगर निगम के अधिकारी को फोन किया जिस पर लेखाधिकारी बापते ठेकेदारों की सूची लेकर दौड़ते हुए मंत्री के पास पहुंचे मंत्री ने सभी कांट्रेक्टर को आश्वस्त किया है कि परीक्षण के बाद शीघ्र ही भुगतान की प्रक्रिया शुरू की जाएगी.

 

Please share this news