Thursday , 25 February 2021

रीवा, सागर संभाग में भारी बारिश के आसार, मप्र में हो गए है चार सिस्टम सक्रिय


भोपाल (Bhopal) . मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में कम दबाव के चार सिस्टम सक्रिय हो गए हैं. इससे प्रदेश के रीवा, सागर संभाग में भारी बारिश के आसार बन रहे हैं. कम दबाव का क्षेत्र पश्चिमी मध्य प्रदेश के मध्य में है. इस वजह से दोनों संभाग के जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश के आसार जताए हैं. मानसून द्रोणिका (ट्रफ) राजस्थान (Rajasthan) से कम दबाव के क्षेत्र से होकर बंगाल की खाड़ी तक जा रही है. दक्षिणी महाराष्ट्र (Maharashtra) से उप्र तक एक ट्रफ बना हुआ है.

दक्षिणी महाराष्ट्र (Maharashtra) पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात मौजूद है. इन चार सिस्टम के असर से बंगाल की खाड़ी और अरब सागर से नमी मिल रही है. मौसम विज्ञानियों ने गुरुवार (Thursday) को रीवा, सागर संभाग के जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश के आसार जताए हैं. उधर, बुधवार (Wednesday) को सुबह 8:30 बजे से शाम 5:30 बजे तक शाजापुर में 50, गुना (guna) में 49, जबलपुर (Jabalpur)में 32.7, इंदौर (Indore) में 30.6, रीवा में 30, धार खरगोन, खंडवा में 26, उज्जैन में 22, दमोह, सतना में 19, रतलाम, रायसेन में 15, होशंगाबाद में 14, भोपाल (Bhopal) में 12.7, सीधी में 6, खजुराहो में 5.4, मलाजखंड में 5, बैतूल, पचमढ़ी में 3, नौगांव, सागर में 2 मिमी. बारिश हुई.

मौसम विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि कम दबाव का क्षेत्र मौजूद रहने के साथ लगातार नमी मिलने से बुधवार (Wednesday) को प्रदेश के अधिकांश स्थानों पर अच्छी बरसात हुई. शुक्ला ने बताया कि कम दबाव का क्षेत्र उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की तरफ बढ़ रहा है. इस वजह से गुरुवार (Thursday) को रीवा, ग्वालियर, सागर संभाग में अच्छी बरसात होने के आसार हैं. रीवा, सागर संभाग में कहीं-कहीं भारी बारिश भी हो सकती है.

Please share this news