Tuesday , 15 June 2021

वन विभाग ने सात लाख ग्रामीणों को रोजगार दिलाने का प्लान किया तैयार

भोपाल (Bhopal) .वन विभाग द्वारा वर्ष 2021-22 में 7 लाख 68 हजार ग्रामीणों को रोजगार दिलाने का एक्शन प्लान तैयार किया गया है. साथ ही संयुक्त वन प्रबंधन का नवीन संकल्प भी तैयार किया जा रहा है. इससे ग्रामीणों की सहभागिता को अधिक प्रभावी बनाया जाएगा.

वनमंत्री डॉ. कुंवर विजय शाह ने बताया कि आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में 3 वर्ष की अवधि में 5 हजार ग्राम वन समितियों की सूक्ष्म प्रबंध योजनाएं तैयार की जाएंगी. प्रथम चरण में 317 समितियों की सूक्ष्म प्रबंध योजनाएं बनाई जा चुकी हैं. इससे प्रदेश के ग्रामीण अंचलों के लोगों को रोजगार मिलेगा. खासकर आदिवासी वर्ग व कमजोर तबके के लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी. इंदौर (Indore) सहित धार, झाबुआ एवं आलीराजपुर में बड़ी संख्या में आदिवासी लोग हैं, जिन्हें रोजगार मिलने से उनके परिवार खुशहाल हो जाएंगे.

टैसू के फूलों से बने रंग बेचने के लिए लगाए दो स्टॉल

वन विभाग द्वारा होली पर्व को लेकर टैसू के फूलों से बने रंग बेचने के लिए नवरतनबाग स्थित मुख्य डिवीजन सहित नौलखा स्थित रेंज कार्यालय में स्टॉल लगाए गए हैं. हर्बल रंग-गुलाल के ढाई सौ पैकेट मंगाए गए हैं. आवश्यकता पडऩे पर और रंग मंगाए जाएंगे. प्रति पैकेट की कीमत 30 रुपए रखी गई है. सीसीएफ हरिशंकर मोहंता ने बताया कि इंदौर, धार, झाबुआ, आलीराजपुर में भी वन विभाग के कार्यालयों में स्टॉल लगाए गए हैं. इन रंगों को बनाने के लिए पिछले कई दिनों से जंगलों में जाकर ग्राम वन समितियों के साथ ही अन्य मजदूरों द्वारा पलाश के फूल एकत्रित किए गए थे, जिन्हें सुखाने के बाद लाल, नारंगी, गुलाबी और पीला रंग और गुलाल तैयार किया गया है.

Please share this news