Thursday , 29 July 2021

देश में पहली बार मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना भाजपा सरकार ने दी : मुख्यमंत्री

गांधीनगर (Gandhinagar) . मुख्यमंत्री (Chief Minister) विजय रूपाणी ने वर्ष 2022 तक राज्य के किसानों की आय दोगुनी करने के निश्चय के साथ हम आगे बढ़ रहे हैं और उसके लिए ठोस कदम उठाए हैं. किसानों के साथ खड़े रहने के लिए फसल बीमा के विकल्प के तौर पर देश में पहली बार गुजरात (Gujarat) ने मुख्यमंत्री (Chief Minister) किसान सहायता योजना शुरू कर रु. 3700 करोड़ का पैकेज दिया है.

विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान अमरेली जिले में मुख्यमंत्री (Chief Minister) किसान सहायता योजना के बारे में प्रश्न की चर्चा में भाग लेते हुए मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने कहा कि फसल बीमा के विकल्प के तौर पर हम यह योजना लाए हैं. बारिश कम होने पर प्राइवेट कंपनियां पर्याप्त मुआवजा नहीं देती थी. ऐसे समय में किसानों की मदद करने का हमारा प्रयास है. जिसमें अतिवृष्टि, मावठ, अनावृष्टि में यह सहायता दी जाती है. एसडीआरएफ के मुताबिक भी किसानों की सहायता दी जाती है. प्रत्येक जिले में पर्याप्त बारिश होने और व्यापक उत्पादन होने पर सरकार ने समर्थन मूल्य पर हजारों करोड़ की कृषि फसलों की खरीदी की है. इतना ही नहीं ग्रीष्म फसलों के लिए भी सिंचाई सुविधा मुहैया कराने के लिए नर्मदा का पानी दिया जा रहा है. जिसकी वजह से राज्य के किसान काफी खुश हैं. यही वजह है कि हाल ही में संपन्न हुई स्थानीय चुनावों में राज्य की जनता ने हमे आशीर्वाद दिए हैं.

कृषि मंत्री आरसी फलदु ने मुख्यमंत्री (Chief Minister) सहायता योजना की विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि योजना के अंतर्गत अमरेली जिला शामिल नहीं होने के बावजूद मुख्यमंत्री (Chief Minister) विजय रूपाणी ने रु. 310 करोड़ की इस योजना के तहत सहायता दी है. उन्होंने कहा कि अब तक जब जब प्राकृतिक आपदा आई है तब तब हमारी सरकार किसानों के साथ मजबूती के साथ खड़ी रही है और हर साल कोई न कोई आपदा के दौरान उनका नुकसान नहीं होने दिया. जरूरत होने पर राज्य के बजट से भी किसानों की सहायता का भुगतान किया गया है.

Please share this news